शहर चुनें

अपना शहर चुनें

Top Cities
States

उत्तर प्रदेश

दिल्ली

उत्तराखंड

हिमाचल प्रदेश

जम्मू और कश्मीर

पंजाब

हरियाणा

विज्ञापन

रिसर्च सेंटर की बीम झुकी व छत टुकड़ों में मिली, जांच के आदेश

लखनऊ ब्यूरो Updated Thu, 20 Jun 2019 01:04 AM IST
रिसर्च सेंटर की बीम झुकी व छत टुकड़ों में मिली, जांच के आदेश
विज्ञापन
रायबरेली। अपर मुख्य सचिव वाणिज्य एवं मनोरंजन कर, आईटी एवं इलेक्ट्रानिक्स व जिले के नोडल अधिकारी आलोक सिन्हा ने बुधवार को हरचंदपुर के दतौली में निर्माणाधीन इंस्टीट्यूट ऑफ ड्राइविंग ट्रेनिंग रिसर्च सेंटर (आईडीटीआरसी) का बदहाली को अपनी आंखों से देखी।

छत की बीम झुकी मिली और छत कई टुकड़ों में मिली। गुणवत्ता खराब प्रतीत होने पर एसडीएम सदर की अध्यक्षता में इंजीनियरों की टीम गठित कराकर जांच के आदेश दिए।

उन्होंने निर्माण इकाई समाज कल्याण निर्माण निगम के अधिकारियों को भी कड़ी फटकार लगाई और निर्माण के काम में सुधार लाने के आदेश दिए। दो दिवसीय दौरे पर यहां आए अपर मुख्य सचिव ने सबसे पहले हरचंपुर सीएचसी का निरीक्षण किया।

अस्पताल में वार्ड, दवा वितरण कक्ष सहित सभी स्थानों पर पहुंचकर व्यवस्था को देखा। उपस्थिति रजिस्टर के साथ ही अन्य रजिस्टरों को भी चेक किया। अस्पताल में जो भी खामियां मिलीं, उन्हें दुरुस्त कराने के निर्देश सीएमओ को दिए।

उन्होंने कहा कि रोगियों को बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया कराई जाएं। उन्होंने रोगियों से दवाओं के बारे में भी जानकारी ली। इसके बाद वे हरचंदपुर के दतौली में निर्माणाधीन इंस्टीट्यूट ऑफ ड्राइविंग ट्रेनिंग रिसर्च सेंटर के काम को देखने के लिए पहुंचे।

यहां निर्माण का काम बेहद खराब मिला। पूरे भवन को चेक किया तो कहीं बीम लटकी मिली तो कहीं छत ही कई टुकड़ों में मिली। ईंटों की गुणवत्ता भी ठीक नहीं मिली।

निर्माण कार्य की बदहाली को देखकर उन्होंने नाराजगी जताते हुए निर्माण इकाई के अधिकारियों को फटकार लगाई। उन्होंने डीएम नेहा शर्मा को मामले में एसडीएम और अधिशासी अभियंताओं की टीम गठित कराकर जांच कराने के निर्देश दिए।

निर्माण की वर्तमान स्थिति और प्लास्टर आदि के बाद ही स्थिति को चेक कराया जाए। कमियां मिलने पर कार्रवाई की जाए। अपर मुख्य सचिव आलोक सिन्हा ने बुधवार को हरचंदपुर ब्लॉक के प्यारेपुर गांव में चौपाल लगाकर लोगों की समस्याओं को सुना।

गांव के लोगों ने बताया कि उन्हें प्रधानमंत्री आवास दिया गया है, लेकिन अब तक उज्ज्वला योजना के तहत गैस कनेक्शन नहीं दिया गया है। मामले में नाराजगी जताते हुए अपर मुख्य सचिव ने डीएसओ को दो दिन के अंदर गैस कनेक्शन दिलाने के आदेश दिए।

साथ ही परियोजना निदेशक कार्यालय से प्रधानमंत्री आवास के लाभार्थियों की सूची लेकर एक माह के अंदर सभी को गैस कनेक्शन देने के आदेश भी दिए।

इससे खेतों की सिंचाई प्रभावित हो रही है। मामले में अपर मुख्य सचिव ने सिंचाई विभाग के अधिकारी को तलब करके नहर में गुरुवार तक पानी पहुंचाने के आदेश दिए।

अपर मुख्य सचिव को बताया गया कि हरचंदपुर माइनर एक किलोमीटर दूर है। बंधा लगा है। बंधा को खोलवाया जा रहा है। गुरुवार को प्यारेपुर नहर में पानी पहुंच जाएगा।

इस मौके पर सीडीओ राकेश कुमार, सीएमओ डॉ. डीके सिंह, पीडी प्रेमचंद्र पटेल, डीडीओ एके वैश्य, डीपीआरओ उपेंद्रराज सिह, डीएसओ केएन सिंह आदि अधिकारी मौजूद रहे।
विज्ञापन

Recommended

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Recommended Videos

Next
Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।