शहर चुनें

अपना शहर चुनें

Top Cities
States

उत्तर प्रदेश

दिल्ली

उत्तराखंड

हिमाचल प्रदेश

जम्मू और कश्मीर

पंजाब

हरियाणा

विज्ञापन

वो आखिरी सेल्फी... पत्नी की चिंता... शहादत

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, मेरठ Updated Thu, 20 Jun 2019 04:55 AM IST
मेजर केतन शर्मा की मां को सांत्वना देतीं सैन्य अधिकारी - फोटो : अमर उजाला

खास बातें


- रविवार रात मेजर केतन शर्मा ने परिजनों से की थी फोन पर बात
- सोमवार सुबह पत्नी को मेसेज किया था कि अचानक फायरिंग हो गई, मैं बाल-बाल बच गया
- पत्नी के चिंता करने पर भेजी थी सेल्फी, कहा था कि चिंता मत करो, मैं ठीक हूं
- दोपहर को ऑपरेशन के दौरान केतन हो गए थे शहीद
 मेजर केतन शर्मा सेना की 19 राष्ट्रीय राइफल्स (आरआर) में जम्मू में तैनात थे। आरआर के स्पेशल ऑपरेशन चलते रहते हैं। ऐसे में जब वे ऑपरेशन पर जाते तो परिवार के लोगों से बात करते। बात नहीं कर पाते तो मेसेज करके हालचाल पूछ लेते। बीते सोमवार को भी जाने से पहले उनकी परिजनों से बात हुई। सुबह को उनका मेसेज आया तो वह परिवार के लिए बेहद डराने वाला था। उन्होंने लिखा था कि अचानक फायरिंग हो गई। मैं बाल-बाल बच गया। गोली पास से निकलती चली गई। मेसेज पढ़कर पत्नी इरा बेचैन हुईं तो मेजर केतन ने सेल्फी भेजते हुए लिखा था कि चिंता मत करो, मैं ठीक हूं। दुर्भाग्य यह रहा कि दोपहर को केतन देश के लिए शहीद हो गए।
विज्ञापन
जम्मू-कश्मीर में आरआर की विभिन्न यूनिट में जो भी अफसर-जवान तैनात होते हैं, वे स्पेशल ऑपरेशन में रहते हैं। वे सोशल साइट्स से दूर रहते हैं। सुरक्षा कारणों के चलते ऐसा होता है। ऑपरेशन से पहले और उसके बाद वे घर पर बात कर सकते हैं। मेजर केतन शर्मा ने भी बीती रविवार रात को परिवार के लोगों से बात की थी। सोमवार की सुबह करीब साढ़े सात बजे उन्होंने पत्नी इरा को मेसेज भेजा कि आज तो बच ही गया। इसके बाद उन्होंने ठीक हूं कहकर सेल्फी भेजी। लेकिन इरा को क्या पता था कि चंद घंटे बाद दोपहर को वे ऑपरेशन के दौरान शहीद हो जाएंगे। इस आखिरी फोटो को देखकर परिजन सुधबुध खो बैठते हैं। इरा तो कमरे में गुमसुम हैं। वे किसी से भी ज्यादा बात नहीं कर पा रही हैं। जब भी बोलती हैं तो केतन का नाम लेकर बिलखने लगती हैं। परिवार के लोग बस यही बोलते हैं कि सुबह का फोटो देखकर ये सोचा भी नहीं था कि दोपहर को उसकी कही बात सच हो जाएगी। इस फोटो को मोबाइल में देखकर परिजन और रिश्तेदार बिलखने लगते हैं।
समझदार होगी तो बताएंगे कि तेरे पापा ने कितना बड़ा काम किया
घर के बाहर खेल रही मेजर केतन की चार साल की बेटी कैरा को देखकर केतन की बुआ की आंखें भर आईं। रूंधे गले से बताया कि सबसे पूछती फिर रही है कि पापा के फोटो क्यों लगा रहे हो। वे कब आएंगे। हमने बताया कि उनको चोट लगी है। आ जाएंगे। इस पर कहती है कि उनको तो माथे पर पट्टी बंधी थी। इतना कहकर बुआ फफकने लगती हैं। बताती हैं कि जब ये समझदार होगी तो इसके पापा के फोटो दिखाकर बताएंगे कि तेरे पापा ने कितना बड़ा काम किया था। वे देश के लिए शहीद हो गए।
विज्ञापन

Recommended

major kentan sharma

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Recommended Videos

Next
Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।