विज्ञापन

कहीं गड्ढे ही खुदे तो कहीं शौचालय में सीट और छत तक नहीं पड़ी

यूपी डेस्क, अमर उजाला, कानपुर Updated Thu, 13 Sep 2018 12:15 AM IST
बिना छत का शौचालय - फोटो : अमर उजाला
कन्नौज:  जिले को ओडीएफ बनाने में केवल खानापूरी की जा रही है। मंडलीय टीम से हाल में ओडीएफ घोषित कन्नौज और जलालाबाद ब्लॉक के गांवों में भी शौचालय अधूरे हैं। कई शौचालय तो ऐसे हैं जिनमें केवल गड्ढे ही खोदे गए हैं। बहुत से ऐसे हैं जिनमें छत और सीट तक नहीं है। गांगेमऊ गांव के मजरा टिकरा और बेहरिन के मजरा रतापुर्वा के लोग शौचालय के लिए प्रदर्शन कर चुके हैं। 
विज्ञापन
 नजरापुर ब्लॉक क्षेत्र के गांव बेहरिन को ओडीएफ चल रहा है लेकिन अभी तक शौचालय पूरे नहीं हैं। गांव के बलराम और राजेश ने शौचालय के लिए छह माह पहले गड्ढा खुदवाया गया था लेकिन अभी तक सामग्री नहीं मिली। ऐसे ही कई लाभार्थियों के गड्ढे खुदे पड़े हैं। इस गांव के मजरा रतापुर्वा के सुनील, जिलेदार, आशा, निर्मला, हुकुम सिंह, गोल्डी, शांती देवी, राजेंद्र, रामजानकी, खुशीलाल, विश्राम सिंह, पान कुमारी, संगीता देवी, किशन कुमार, विनय राजपूत, ममता, सिया देवी सहित 50 लोगों ने कई बार अधिकारियों को प्रार्थना पत्र दिए लेकिन अभी तक शौचालय बन पाए। पंचायत गांगेमऊ के मजरा टिकरा 150 शौचालय का लक्ष्य था, इसमें करीब आधे शौचालय अधूरे पड़े हैं। गांव के जगदीश, प्रेम, रंजीत, संजीव, राजवीर ने बताया कि प्रधान व सचिव ने कम सामग्री दी, इससे शौचालय नहीं बनवा पा रहे हैं।


कुछ यही हाल जलालाबाद ब्लॉक के ग्राम पंचायत गढ़िया कछपुरा का है। इस गांव के राजपाल, उदयवीर, नीरज, रामलखन, नरेश आदि भी शौचालय अधूरे होने की शिकायत कर चुके हैं। खुदलापुर ग्राम पंचायत के मजरा मसीपुर्वा में भी कई शौचालयों में सीट व छत तक नहीं है। इसी ब्लॉक के ग्राम पंचायत गढ़िया कछपुरा के मजरा मदारपुर के खुशीराम, शेर सिंह, संतोषा देवी, कुंवरपाल, दशरथ, सोबरन, मुकेश के शौचालय भी अभी तक पूरे नहीं बन पाए हैं। इस संबंध में डीपीआरओ जितेंद्र कुमार मिश्रा का कहना है कि जिन गांवों में अधूरे शौचालय की जानकारी मिली है। जांच कराकर शौचालय पूर्ण कराए जाएंगे और सचिव और ग्राम प्रधान के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। 

Spotlight

Most Popular

Related Videos

विज्ञापन
Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।