ऐप में पढ़ें

बिना कार्य कराए ही लाखों रुपये डकार गए प्रशासक व ग्राम पंचायत अधिकारी

लखनऊ ब्यूरो
Updated Sat, 31 Jul 2021 10:39 PM IST
विज्ञापन
गोंडा। ग्राम सभा कलेनिया में हैंडपंप रीबोर, पंचायत भवन निर्माण, स्ट्रीट लाइट, शौचालय निर्माण कार्य बिना किये ही ग्राम पंचायत अधिकारी व प्रशासक ने मिली भगत करके कार्यदायी संस्था के नाम पर लाखों रुपया भुगतान कर लिया है। ग्राम प्रधान ने मुख्य विकास अधिकारी गोंडा को शिकायत पत्र भेजकर उक्त मामले की जांच करवाकर कार्यवाई की मांग की है।
विकास खंड मनकापुर क्षेत्र के कलेनिया गांव के ग्राम प्रधान संतोष त्रिपाठी ने मुख्य विकास अधिकारी गोंडा को दिए शिकायत पत्र में कहा है कि दिनांक 6 मई को हैंडपंप रीबोर के नाम पर रजत कांस्ट्रक्शन फर्म पर 1 लाख 30 हजार व 13 मई को एके कॉन्सट्रक्शन फर्म पर 52 हजार व प्रशासनिक मद के नाम पर 30 हजार भुगतान कर लिया गया।

उक्त भुगतान के सापेक्ष ग्राम पंचायत में कोई कार्य नहीं कराया गया। फर्जी तरीके से ग्राम पंचायत अधिकारी अवधेश पांडेय व प्रशासक घनश्याम पांडेय द्वारा मिलीभगत कर भुगतान कर लिया गया। पंचायत भवन निर्माण के लिए 60 हजार का भुगतान भी एके कॉन्स्ट्रक्शन के नाम कर लिया गया है, जबकि पंचायत भवन का निर्माण दूसरी कार्यदायी संस्था कर रही है।
स्ट्रीट लाइट के नाम पर दिनांक 30 जुलाई 2020 को एक लाख व 30 सितंबर 2020 को 1 लाख 82 हजार रुपये ह्यूम पाइप खरीद के नाम पर निकाल लिया गया है। ग्राम सभा में एक भी स्ट्रीट लाइट व ह्यूम पाइप नहीं लगा है।
सामुदायिक शौचालय का पूरा भुगतान निकाल लेने के बाद भी अभी तक शौचालय पूर्ण नहीं कराया गया है। इस मामले में ग्राम प्रधान ने ग्राम पंचायत में किये गए भ्रष्टाचार की जांच करवा कर नियमानुसार कार्यवाही की मांग की है। प्रभारी बीडीओ/एसडीएम ज्ञान चंद गुप्ता ने बताया कि शिकायत मिली है। जांच करवाकर कार्यवाई की जाएगी।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
MORE