शहर चुनें

अपना शहर चुनें

Top Cities
States

उत्तर प्रदेश

दिल्ली

उत्तराखंड

हिमाचल प्रदेश

जम्मू और कश्मीर

पंजाब

हरियाणा

विज्ञापन

कुलपति के खिलाफ जारी किया श्वेतपत्र

इलाहाबाद ब्यूरो Updated Sat, 21 Sep 2019 02:15 AM IST
इलाहाबाद विश्वविद्यालय बचाओं संयुक्त संघर्ष समिति के तत्वावधान में शुक्रवार को आयोजित शहर के आम नागरिकों, अधिवक्ताओं, कर्मचारी नेताओं, शिक्षकों एवं छात्रों की संयुक्त सभा में विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. रतन लाल हांगलू के खिलाफ श्वेतपत्र जारी किया गया। साथ ही छात्रसंघ बहाली के आंदोलन को समर्थन की घोषणा की गई।
विज्ञापन
प्रो. रंजना कक्कड़ की अध्यक्षता में हुई बैठक में तय किया गया कि 23 सितंबर को समस्त संगठन स्वतंत्र रूप से इलाहाबाद विश्वविद्यालय का स्थापना दिवस मनाएंगे। साथ ही निर्णय गया कि कुलपति और महिला के बीच बातचीत का वायरल हुआ कथित ऑडियो शहर के अलग-अलग मुहल्लों में जाकर लोगों को सुनाएंगे। पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष रोहित मिश्र, ऋचा सिंह, अवनीश यादव ने विश्वविद्यालय की दुर्दशा के लिए कुलपति को जिम्मेदार ठहराया और कहा कि सभी संगठन एवं आम नागरिक एक मंच पर आ चुके हैं। कुलपति को एक हफ्ते में विश्वविद्यालय छोड़कर जाना होगा।
पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष दिनेश यादव, पूर्व ऑटा अध्यक्ष प्रो. राम किशोर शास्त्री ने कहा कि संयुक्त संघर्ष समिति की ओर से राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री एवं मानव संसाधन विकास मंत्री से मिलने का समय मांगा जाएगा। सभा में प्रो. केजी श्रीवास्तव, अधिवक्ता कमरुद्दीन हसन, इविवि कर्मचारी संघ के पूर्व महामंत्री मुश्ताक, प्रो. अरुण कुमार श्रीवास्तव, फूलचंद दुबे, प्रो. यूएस राय, प्रो. विनय चंद्र पांडेय, प्रो. केसरी द्विवेदी, कमल सिंह यादव, प्रो. लालसा यादव, प्रो. सूर्य नारायण सिंह आदि मौजूद रहे।
कुलपति के समर्थन में ऑक्टा ने की सभा
कुलपति के समर्थन में ऑक्टा कार्यकारणी की शुक्रवार को हुई सभा में कहा गया कि कुछ लोग अपने निजी स्वार्थों के कारण विश्वविद्यालय को अस्थिर करना चाहते हैं, जो ऑक्टा नहीं होने देगा। पदाधिकारियोें ने कहा कि कुलपति ने महाविद्यालयों में पीजी और शोध कराने की अनुमति देकर एक बड़ी सामाजिक मांग पूरी की। पदाधिकारियों ने कहा कि जरूरत पड़ी तो विश्वविद्यालय एवं महाविद्यालयों को अस्थिर करने वालों के खिलाफ छात्रों को साथ लेकर बड़ा आंदोलन किया जाएगा। सभा में ऑक्टा महासचिव डॉ. उमेश प्रताप सिंह, डॉ. रणधीर सिंह, डॉ. अर्चना पाल, डॉ. इभा सिरोठिया, डॉ. आरपी गंगवार, डॉ. केएन सिंह आदि शामिल रहे।
विज्ञापन

Recommended

education allahabad university prayagraj news Vice chancelor Hangloo

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Recommended Videos

Next
Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।