बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

शहर चुनें

चलती कार में गैंगरेप: एक्सप्रेसवे पर नोएडा से मथुरा तक युवती से होती रही दरिंदगी

पुनीत शर्मा, अमर उजाला, मथुरा Updated Tue, 17 Apr 2018 09:26 AM IST
विज्ञापन
SRH Vs RR : The Pacers will have an advantage in this match
विज्ञापन
गैंगरेप के आरोपी सलमान और साजिद - फोटो : अमर उजाला
नोएडा से मथुरा तक युवती के साथ दरिंदगी होती रही। होंडा सिटी कार के शीशों को काले कपड़े से ढक दिया गया था। युवती की आवाज बाहर किसी को सुनाई न दे इसके लिए तेज म्यूजिक रास्ते भर बजाया गया। जब युवती ने विरोध किया तो उसकी पिटाई भी की गई। एक्सप्रेसवे पर कई जगह सड़क किनारे कार को रोका भी गया था।

ग्रेटर नोएडा में प्राइवेट नौकरी करने वाली पीड़ित युवती इस कदर डरी हुई थी कि अपने साथ हुई दरिंदगी को बताते-बताते रो पड़ती थी। उसका चेहरा सूजा हुआ था। चेहरे पर मारपीट के निशान थे। कपड़े फटे थे। युवती ने बताया कि उसने रास्ते भर दोनों के हाथ जोड़े। पैर पकड़े लेकिन वह कार को तेज रफ्तार से दौड़ाते रहे। जब उसने फोन करने की कोशिश की तो उसका मोबाइल भी छीन लिया गया।


सलमान और साजिद बार-बार कह रहे थे कि आज लॉंग ड्राइव पर चलेंगे। मथुरा से भी अपने किसी दोस्त को साथ लेने की बात कर रहे थे। रास्ते में इन लोगों ने अपने दोस्तों को फोन भी किया था। लेकिन दोस्तों के नाम वह नहीं जान सकी। उधर, कोतवाल शिवप्रताप सिंह ने बताया कि जब युवती ने सूचना दी तो पुलिस तत्काल पहुंच गई थी। आरोपी युवक कार को लेकर भागने की कोशिश कर रहे थे मगर उन्हें दबोच लिया गया। गाड़ी के पीछे वाले शीशे और साइड वाले शीशों पर काला कवर लगा हुआ था। इससे लगता है कि यह लोग पूरी प्लानिंग के साथ थे। युवती ने बताया है कि एक्सप्रेसवे पर तीन जगह कार को रोका गया था। जब टोल प्लाजा आया तो उसके मुंह पर कपड़ा रख दिया था और सीट पर नीचे की तरफ झुका दिया था।
विज्ञापन

दो संप्रदाय का मामला होने पर पुलिस ने दिखाई तेजी

दो संप्रदाय का मामला होने के चलते पुलिस ने भी इसमें तेजी दिखाई। लड़की हिंदू समाज से है जबकि दोनों आरोपी मुस्लिम हैं। युवती मूलत: मेरठ जनपद के एक गांव की रहने वाली है, जबकि दोनों आरोपी युवक सलमान और साजिद गौतमबुद्ध नगर में दादरी के रहने वाले हैं। बताया जाता है कि जब युवती की पहचान सलमान से हुई थी तो उसने अपना नाम मलिक बताया था। वह हाथ में कलावा बांधकर रहता था।

अब तो डराने लगा है एक्सप्रेसवे का सफर
एक्सप्रेसवे का सफर डराने लगा है। बढ़ती वारदात को रोक पाने में पुलिस पूरी तरह से फेल साबित हो रही है। अभी हफ्ते भर पहले ही कारोबारियों से चांदी लूट ली गई थी। नोएडा से आगरा तक का एक्सप्रेसवे वाकई असुरक्षित हो गया है। यूं तो पुलिस अधिकारी दावा करते हैं कि कई प्वाइंट पर पुलिस को लगाया गया है लेकिन हकीकत में कुछ दिखेगा नहीं। कभी एक्सप्रेसवे का सफर कर लीजिए पुलिस को दिखती ही नहीं है। अगर किसी को मदद की जरूरत पड़ गई तो उम्मीद मत कीजिए। 
विज्ञापन

Latest Video

Recommended

Next
Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।