ऐप में पढ़ें

Google ने प्ले-स्टोर से हटाया डिजिटल वॉलेट एप MobiKwik , ये रही वजह

टेक डेस्क, अमर उजाला Published by: अजय वर्मा Updated Fri, 29 May 2020 12:30 PM IST

सार

  • मोबिक्विक एप गूगल प्ले स्टोर से हुआ रिमूव
  • गूगल ने कहा- प्ले स्टोर की नीतियों का किया उल्लंघन
  • मोबिक्विक के अलावा पेटीएम और स्विगी एप में है आरोग्य सेतु एप का लिंक
MobiKwik
MobiKwik - फोटो : social media
विज्ञापन

विस्तार

दिग्गज सर्च इंजन कंपनी गूगल (Google) ने डिजिटल वॉलेट एप मोबिक्विक (MobiKwik) को प्ले स्टोर की नीतियों का उल्लंघन करने के कारण अपने प्लेटफॉर्म से हटा दिया है। इस पर मोबिक्विक के सीईओ बिपिन प्रीत सिंह का कहना है कि इस एप को इसलिए हटाया गया है, क्योंकि इसमें आरोग्य सेतु एप का लिंक है। आपको बता दें कि मोबिक्विक एप को पिछले सप्ताह ही गूगल की तरफ से चेतावनी मिली थी।
विज्ञापन


मोबिक्विक के सीईओ बिपिन प्रीत सिंह ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर ट्वीट करते हुए कहा है कि हमारे एप को गूगल प्ले स्टोर से हटा दिया गया है। गूगल ने ऐसा इसलिए किया है, क्योंकि इसमें आरोग्य सेतु मोबाइल का लिंक था। हमने आरबीआई की गाइडलाइन को ध्यान में रखकर ऐसा किया था, जिससे आरोग्य सेतु मोबाइल एप के प्रति ज्यादा-से-ज्यादा लोगों को जागरूक किया जा सके। 

 
 
हालांकि, अब मोबिक्विक एप आरोग्य सेतु एप लिंक के बिना ही गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध है। यूजर्स इस एप को डाउनलोड कर इस्तेमाल कर सकते हैं। गौरतलब है कि मोबिक्विक के अलावा पेटीएम और स्विगी में कॉन्टेक्ट ट्रैसिंग एप आरोग्य सेतु एप का लिंक है। 

10 करोड़ यूजर्स ने डाउनलोड किया आरोग्य सेतु एप
आरोग्य सेतु मोबाइल एप को अब तक 10 करोड़ यूजर्स डाउनलोड कर चुके हैं। अप्रैल के अंत तक आरोग्य सेतु मोबाइल एप को 7.5 करोड़ यूजर्स ने डाउनलोड किया था। इस आकंड़ों की जानकारी मिनस्ट्री ऑफ इलेक्ट्रिक्स एंड आईटी की रिपोर्ट से मिली थी।  

क्या है आरोग्य सेतु मोबाइल एप 
आरोग्य सेतु एप को कोरोना वायरस के संक्रमित को रोकने के लिए उद्देश्य से बनाया गया है। आरोग्य सेतु एप लोगों को बताएगा कि आप किसी कोरोना संक्रमित शख्स के संपर्क में आए हैं या नहीं। इसके अलावा इस एप से आप यह भी पता लगा सकते हैं कि आपको कोरोना संक्रमण का कितना खतरा है।
विज्ञापन
विज्ञापन

Latest Video

MORE