शहर चुनें

अपना शहर चुनें

Top Cities
States

उत्तर प्रदेश

दिल्ली

उत्तराखंड

हिमाचल प्रदेश

जम्मू और कश्मीर

पंजाब

हरियाणा

विज्ञापन

कैराना विधायक नाहिद हसन के घर पुलिस की दबिश, लटकी गिरफ्तारी की तलवार

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, शामली/कैराना Updated Sun, 22 Sep 2019 02:36 PM IST
1 of 6
कैराना में तैनात पुलिस फोर्स - फोटो : अमर उजाला
कैराना से सपा विधायक नाहिद हसन की गिरफ्तारी को लेकर प्रशासन पूरी तरह लामबंद है। इसे लेकर पुलिस ने शनिवार को विधायक की गिरफ्तारी के लिए उनके घर पहुंचकर दबिश दी। विधायक के घर दबिश डालने से पहले प्रशासन ने पूरा होमवर्क किया। मामला माननीय से जुड़ा था। जिला प्रशासन को ये भी डर था कि मामला कहीं राजनीतिक तूल पकड़ जाने के साथ ही कहीं माहौल न बिगड़ जाए।

लिहाजा पुलिस प्रशासन ने कानूनी सलाहकारों से सलाह लेने के साथ ही विधायक की चौतरफा घेराबंदी की। अधिकारियों की यही रणनीति काम आ गई। हालांकि विधायक व गाड़ी का कुछ पता नहीं चल सका लेकिन प्रशासन ने शांतिपूर्वक माहौल में पूरी कार्रवाई को अंजाम दिया।
विज्ञापन

2 of 6
कैराना में तैनात पुलिस फोर्स - फोटो : अमर उजाला
नौ सितंबर को कैराना में संदिग्ध गाड़ी के कागजात दिखाने को लेकर विधायक और एसडीएम के बीच हुई बहस के बाद ये मसला शुरू हुआ था। वीडियो वायरल हुई। पुलिस ने विधायक के खिलाफ धोखाधड़ी सहित कई धाराओं में केस दर्ज कर लिया, पहले 24, फिर 72 घंटे का समय देने के बाद भी विधायक पक्ष द्वारा संदिग्ध गाड़ी और उसके कागजात उपलब्ध नहीं कराए गए, तो पुलिस को भी लगने लगा था कि गाड़ी सही होती तो कागजात आने में इतनी देर नहीं लगती।

इसी बीच विधायक पक्ष ने 16 सितंबर को कैराना तहसील में एक लाख लोगों के साथ धरने प्रदर्शन की अनुमति मांगकर पुलिस प्रशासन पर दबाव बनाने की कोशिश की। हालांकि पुलिस प्रशासन ने धरने की अनुमति नहीं दी। भाकियू सुप्रीमो नरेश टिकैत के पास पूर्व सांसद तबस्सुम हसन समर्थन मांगने के लिए पहुंची। 

3 of 6
कैराना में विधायक के घर पर पहुंची पुलिस फोर्स - फोटो : अमर उजाला
टिकैत की मध्यस्थता के बाद पुलिस प्रशासन ने विधायक को पांच दिन का वक्त और दे दिया, लेकिन पुलिस को ये अंदेशा हो चुका था कि गाड़ी और कागज आने वाले नहीं है। लिहाजा पुलिस ने विधायक के खिलाफ घेराबंदी शुरू कर दी थी।

उधर, कानूनी एक्सपर्ट की मदद से पुलिस ने विधायक के खिलाफ वारंट लेने को मजबूत तथ्यों के साथ कोर्ट के लिए फाइल तैयार की गई। इसी प्लानिंग का नतीजा हुुआ कि पुलिस विधायक के खिलाफ वारंट लेने में कामयाब रही। 

4 of 6
थाने में पुलिस फोर्स ब्रीफिंग करते एसपी अजय कुमार - फोटो : अमर उजाला
थानों में खंगाला सपा विधायक का काला चिट्ठा 
विधायक के खिलाफ विभिन्न थानों में दर्ज मुकदमों का चिट्ठा पुलिस ने खंगाला। एसपी के मुताबिक विधायक पर संगीन धाराओं में 11 मुकदमे दर्ज हैं। इनमें जानलेवा हमले सहित धोखाधड़ी के मामले हैं। 

इन मामलों में कहीं उन्हें आसानी से जमानत ना मिल जाए, इसलिए पुलिस ने झिंझाना में दर्ज एसडीओ पर हमले के मामले में आईपीसी की धारा 333 बढ़ा दी। इसमें 10 साल तक की सजा संभव है। पुलिस ने कैराना विधायक नाहिद हसन का पूरा चिट्ठा तैयार कर कई कानूनी एक्सपर्ट से सलाह ली। 

5 of 6
कैराना में तैनात पुलिस फोर्स - फोटो : अमर उजाला
मामला राजनीतिक था। लिहाजा डीआईजी से लेकर डीजीपी तक पूरे मामले की रिपोर्टिंग हुई। पूरी अपडेट वहां से दी जाती रही। इस दौरान पुलिस की टीमें कैराना कस्बे की गतिविधियों पर नजर रखती रही।

पुलिस के हालचाल दस्ते ने कसबे के लोगों को विश्वास में लिया।  इसी प्लानिंग के तहत 15 सितंबर को ही कैराना में पांच कंपनी पीएसी, आरआरएफ बुलाकर तैनात कर दी गई, ताकि लोगों में सुरक्षा की भावना बनी रहे। 

6 of 6
कैराना में विधायक के घर पर तैनात पुलिस फोर्स - फोटो : अमर उजाला
विधायक माननीय हैं। इसलिए पुलिस ने कोर्ट से वारंट लेकर पूरी कार्रवाई की है, लेकिन दबिश के दौरान ना वो और न उनकी संदिग्ध गाड़ी मिली है। पुलिस वारंट तामील होने तक दबिश देती रहेगी, यदि इसके बाद भी वह हाथ नहीं आते तो पुलिस कुर्की की कार्रवाई और उन पर इनाम घोषित कराने की कानूनी प्रक्रिया भी अमल में लाएगी। - अजय कुमार,एसपी शामली।
विज्ञापन

Recommended Videos

Next
Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।