शहर चुनें

अपना शहर चुनें

Top Cities
States

उत्तर प्रदेश

दिल्ली

उत्तराखंड

हिमाचल प्रदेश

जम्मू और कश्मीर

पंजाब

हरियाणा

यूपी: बेटी की हत्या के बाद बोला पिता- 'बहुत प्यार से पाला था, बिलखते रहे भाई-बहन'

अमर उजाला नेटवर्क, कानपुर Updated Fri, 18 Sep 2020 08:31 AM IST
विज्ञापन
1 of 5
murder in kanpur - फोटो : अमर उजाला

विज्ञापन मुक्त विशिष्ट अनुभव के लिए अमर उजाला प्लस के सदस्य बनें

Subscribe Now
उत्तर प्रदेश से हैरान करने वाला मामला सामने आया है, कानपुर देहात में एक युवती अपने प्रेमी के घर पहुंच गई, इससे गुस्साए पिता ने बेटी को बेरहमी से कुल्हाड़ी से काट दिया। वहीं, बचाव में आए प्रेमी पर आरोपी ने हमला कर घायल कर दिया। 
विज्ञापन

2 of 5
घटना स्थल पर मौजूद पुलिस - फोटो : अमर उजाला
घटना कानपुर देहात के गजनेर थाना इलाके के खनपना गांव की है। यहां एक पिता ने बेटी की उसके प्रेमी के घर में घुसकर कुल्हाड़ी से काटकर हत्या कर दी। प्रेमी के बीचबचाव करने पर आरोपी ने उसकी भी पिटाई की। युवक के गले पर पैर रखकर दबाने से उसकी हालत खराब हो गई। पुलिस ने युवक को जिला अस्पताल में भर्ती कराया। पुलिस ने कुल्हाड़ी समेत आरोपी पिता को गिरफ्तार कर लिया गया है।
 

3 of 5
रोते बिलखते मृतक के परिजन - फोटो : amar ujala
बेटी को प्यार से पाला था
पुलिस हिरासत में फफकते हुए कहा कि मेहनत मजदूरी करके बेटी को प्यार से पाला था। कभी सोचा नहीं था कि ऐसी नौबत आएगी। शिवनाथ के इस कृत्य से गांव के लोग स्तब्ध है। ग्रामीणों ने कहा कि शिवनाथ मजदूरी करके परिवार का भरण पोषण करता रहा। गांव में कभी किसी के साथ उसकी कहासुनी नहीं हुई। इतनी बड़ी घटना को अंजाम दे सकता है इस पर लोगों को अभी भी यकीन नहीं हो पा रहा है। 
 
विज्ञापन

4 of 5
घर के बाहर लगी भीड़ - फोटो : amar ujala
मां घर में होती तो बच सकती थी घटना 
खनपना गांव में पिता ने प्रेमी के घर में बेटी की कुल्हाड़ी से काटकर हत्या कर दी। घटना से तीन दिन पहले उसकी मृतका की मां सीमा देवी मायके चली गई थी। घटना की जानकारी पर वह घर आई और बिलखती रही। उसने कहा कि अगर वह मायके न जाती तो शायद घटना न होती। उसके घर में न होने की वजह से बेटी प्रेमी से मिलने पहुंच गई। छोटे भाई बहन सो गए। उन्हें जानकारी नहीं हो सकी। 
 

5 of 5
घरों से बाहर निकल आए लोग - फोटो : amar ujala
बिलखते रहे भाई-बहन 
खनपना गांव में बिटान की हत्या के बाद भाई बहन बिखलते रहे। परिवार के लोग कुछ भी खुलकर बोलने को तैयार नहीं हुए। बड़ी बहन के शव से लिपट नेहा व प्रिया रोती रहीं। छोटा भाई विवेक भी रो रहा था। जबकि, बड़ा भाई दिनेश भी गुमसुम था। 
विज्ञापन
विज्ञापन
Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।