शहर चुनें

अपना शहर चुनें

Top Cities
States

उत्तर प्रदेश

दिल्ली

उत्तराखंड

हिमाचल प्रदेश

जम्मू और कश्मीर

पंजाब

हरियाणा

विधायक-एसओ प्रकरण: वर्दी का अपमान जिंदगी भर नहीं भूल पाऊंगा, निलंबित एसओ बोले-मारना था तो सादे में बुला लेते

अभिषेक शर्मा, अमर उजाला, लखनऊ Updated Fri, 14 Aug 2020 09:03 AM IST
विज्ञापन
1 of 5
विधायक-एसओ प्रकरण - फोटो : अमर उजाला

विज्ञापन मुक्त विशिष्ट अनुभव के लिए अमर उजाला प्लस के सदस्य बनें

Subscribe Now
विधायक से मारपीट के आरोप में निलंबित एसओ गोंडा अनुज कुमार सैनी ने कहा कि 11 साल की नौकरी के जीवनकाल में पहली बार मेरी वर्दी का अपमान हुआ है, जिसे कभी नहीं भूल पाऊंगा। अगर विधायक जी को मारना ही था तो सादे में कहीं भी बुला लेते। शायद, कुछ न बोलता या कहता। मगर, पिटने के बाद अपना आक्रोश मिटाने के लिए जो मन में आया वह भड़ास निकाल दी। उन्होंने उन्होंने खुद को पूरे प्रकरण में निर्दोष बताते हुए कहा कि मामला गंगाजल की तरह साफ है। 
 
विज्ञापन

2 of 5
निलंबित एसओ अनुज कुमार सैनी - फोटो : अमर उजाला
थाने के सीसीटीवी कैमरे में पूरा घटनाक्रम कैद है। फिलहाल, सीसीटीवी करप्ट है। रिकवर होने पर असल सच्चाई सबके सामने होगी। जिसकी रिकवरी का प्रयास किया जा रहा है। अमर उजाला से बातचीत में अनुज कुमार सैनी ने कहा कि यह पूरा एक षड्यंत्र है। विधायक कई गाड़ियों से अचानक हूटर बचाते हुए थाने में आए। उनके साथ ज्यादा लोग थे। 

3 of 5
भाजपा विधायक - फोटो : अमर उजाला
कोरोना महामारी के चलते सामाजिक दूरी का ध्यान रखने हुए दुआ सलाम करते हुए सभी लोगों को कार्यालय के बाहर बैठने का इशारा किया। इस पर उन्होंने थाने पर काम कर रहे एक बुजुर्ग चौकीदार को गाली दे दी। चौकीदार को गाली देते देख विधायक को टोका। उनसे चौकीदार की उम्र का लिहाज करने को कहा। इस पर विधायक ने उन्हें गाली दे दी। 
विज्ञापन

4 of 5
mla rajkumar shayogi - फोटो : अमर उजाला
इससे पहले की वह कुछ समझ पाते विधायक ने थप्पड़ मारते हुए वर्दी खींच ली और नेम प्लेट तोड़ दी। अचानक हुए इस घटनाक्त्रस्म से वह हैरानी में आ गए। तत्काल उच्चाधिकारियों की मामले की जानकारी दी। उच्चाधिकारियों के पहुंचने से पहले ही विधायक ने अपना कुर्ता फाड़ लिया। अनुज कुमार के मुताबिक, यह पूरा घटनाक्रम थाने के सीसीटीवी कैमरे में कैद हुआ है। सीसीटीवी किसी तकनीकी कमी के कारण करप्ट हो गया है। जांच के दौरान उसे रिकवर किया जाएगा तो पूरे मामले की सच्चाई सभी के सामने होगी।

5 of 5
मारपीट के बाद थाने में भीड़ - फोटो : अमर उजाला
पिटाई के बाद गुस्से में विधायक को भला बुरा कहना स्वीकारा
उन्होंने बुढ़ापे में मार दिया तो हड्डी भी नहीं जुड़ेगी बात की वायरल वीडियो को लेकर भी अपनी सफाई दी। अनुज कुमार ने कहा कि यह मारपीट के बाद का वीडियो है। अगर कोई व्यक्ति किसी के साथ मारपीट करता है। वर्दी का अपमान करता है तो सामने वाले व्यक्ति को गुस्सा आना स्वाभाविक है। वह गुस्से में यह सब बात बोल गए थे। अनुज कुमार सैनी ने बताया कि वह मूलरूप से सहारनपुर के रहने वाले हैं। अलीगढ़ में किसी थाने के प्रभारी के तौर पर यह उनका पहला चार्ज था। इससे पहले वह मथुरा और मैनपुरी में तैनात रह चुके हैं। अब वह अपना सामान समेटकर जा रहे हैं।
विज्ञापन
Next
Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।