शहर चुनें

अपना शहर चुनें

Top Cities
States

उत्तर प्रदेश

दिल्ली

उत्तराखंड

हिमाचल प्रदेश

जम्मू और कश्मीर

पंजाब

हरियाणा

विज्ञापन

कमलेश तिवारी हत्याकांड में नया मोड़, कातिलों ने Google ही नहीं Facebook को बनाया ऐसे हथियार?

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, लखनऊ Updated Mon, 21 Oct 2019 12:10 PM IST
1 of 5
कमलेश तिवारी हत्याकांड - फोटो : अमर उजाला
कमलेश तिवारी के नजदीक आने के लिए हत्यारे ने सोशल मीडिया का सहारा लिया था। उसने फेसबुक पर फर्जी आईडी बनाकर कमलेश से संपर्क किया। इसके बाद जाल बिछाकर उनकी हत्या कर दी। यह दावा रविवार दोपहर कमलेश तिवारी के खुर्शेदबाग स्थित घर पहुंचे पार्टी के पश्चिम यूपी प्रभारी गौरव गोस्वामी ने किया है। 
विज्ञापन

2 of 5
kamlesh tiwari murder case - फोटो : सीसीटीवी फुटेज से
गौरव ने गुजरात के सूरत निवासी एक युवक की फेसबुक प्रोफाइल पर लगी डीपी और सीसीटीवी कैमरों में दिख रहे हत्या के एक आरोपी का चेहरा मिलने के बाद यह आरोप लगाया। गौरव का कहना है कि  इस युवक ने कुछ महीने पहले ही फेसबुक पर प्रोफाइल बनाई थी। वह अक्सर फोन करके पार्टी से जुड़ने की बात कहता था। उसने तीन महीने पहले एक मोबाइल नंबर से कॉल करके बातचीत भी की थी। 

3 of 5
kamlesh tiwari murder case - फोटो : ani
इस नंबर से उसने कई बार-बात की और कमलेश तिवारी व पार्टी के बारे में जानकारी ली। पार्टी कार्यालय के बारे में भी पूछा। कहा कि अगर वह लखनऊ आकर रुकना चाहे तो क्या पार्टी कार्यालय में इंतजाम है? इस पर गौरव ने उसे पार्टी कार्यालय में कोई व्यवस्था न होने की बात कहते हुए होटल में ठहराने के लिए कहा था। फिलहाल यह नंबर कुछ दिन से बंद आ रहा है।
 

4 of 5
kamlesh tiwari murder case - फोटो : सोशल मीडिया
गौरव का दावा है कि इस युवक के नाम से प्रोफाइल बनाने वाला ही हत्यारों में से एक है और वह चार महीने से हत्या की साजिश रच रहा था। फेसबुक के जरिए पार्टी से जुड़ने के नाम पर युवक ने कमलेश के बारे में जानकारियां जुटाईं और उनकी हत्या कर दी। गौरव ने कहा कि युवक की फेसबुक प्रोफाइल और मोबाइल नंबर के बारे में जानकारी जुटाने से कई अहम सुराग मिल सकते हैं। वहीं इस मामले में एसएसपी कलानिधि नैथानी का कहना है कि साइबर टीम से फेसबुक प्रोफाइल की पड़ताल कराई जा रही है।
 

5 of 5
कमलेश तिवारी - फोटो : अमर उजाला
आपको बता दें कि हिंदू महासभा के पूर्व नेता और हिंदू समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष कमलेश तिवारी (50) की शुक्रवार को दो बदमाशों ने लखनऊ में बेरहमी से हत्या कर दी। दोनों बदमाश भगवा कपड़े पहने हुए थे और मिठाई के डिब्बे में पिस्टल व चाकू छिपाकर लाए थे। दोनों नाका स्थित खुर्शेदबाग की तंग गलियों में स्थित कमलेश के घर पहुंचे। पहली मंजिल स्थित पार्टी दफ्तर में पहले उनकी गर्दन पर गोली मारी। फिर चाकू से ताबड़तोड़ वार करने के बाद गला रेत दिया। फिलहाल आरोपी पुलिस की पकड़ से दूर हैं। 
 
विज्ञापन

Recommended Videos

Next
Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।