शहर चुनें

अपना शहर चुनें

Top Cities
States

उत्तर प्रदेश

दिल्ली

उत्तराखंड

हिमाचल प्रदेश

जम्मू और कश्मीर

पंजाब

हरियाणा

विज्ञापन

अरुण-स्वराज का तिरंगा प्रेम, उस दिन सुषमा के साथ पहुंचे थे जेटली, यह है एक अमर किस्सा

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, जम्मू Updated Sun, 25 Aug 2019 11:47 AM IST
1 of 5
अरुण जेटली और सुषमा स्वराज (फाइल फोटो) - फोटो : अमर उजाला
25 जनवरी, 2011 को जम्मू-कश्मीर पुलिस ने भाजपा की राष्ट्रीय एकता यात्रा कठुआ में रोक दी और बीजेपी के शीर्ष नेताओं को पांच सौ कार्यकर्ताओं के साथ जम्मू में घुसने की कोशिश करते हुए गिरफ्तार कर लिया था। गौरतलब है कि कोलकाता से 13 जनवरी को शुरू हुई यह यात्रा श्रीनगर के लाल चौक पर राष्ट्रीय ध्वज फहराकर संपन्न होनी थी।
 
विज्ञापन

2 of 5
अरुण जेटली (फाइल फोटो) - फोटो : अमर उजाला
कठुआ में गिरफ्तार ये नेता गणतंत्र दिवस के अवसर पर लाल चौक में झंडा फहराने के लिए सैकड़ों कार्यकर्ताओं के साथ माधोपुर से रावी नदी का पुल पार कर लखनपुर इलाके में घुसे थे। इन्हें श्रीनगर जाने से रोकने के लिए प्रशासन ने राज्य में धारा 144 लागू की हुई थी।

3 of 5
अरुण जेटली (फाइल फोटो) - फोटो : अमर उजाला
गिरफ्तार नेताओं में संसद के दोनों सदनों में तत्कालीन नेता प्रतिपक्ष सुषमा स्वराज, अरुण जेटली, शांता कुमार, अनंत कुमार, तत्कालीन बीजेपी युवा मोर्चा के प्रभारी धर्मेंद्र प्रधान और अनुराग ठाकुर भी शामिल थे। इन नेताओं को उसी जगह से गिरफ्तार किया गया, जहां से 1953 में श्यामा प्रसाद मुखर्जी को गिरफ्तार किया गया था।
 

4 of 5
अरुण जेटली (फाइल फोटो) - फोटो : अमर उजाला
बता दें कि, गिरधारी लाल डोगरा के दामाद अरुण जेटली का भी जम्मू-कश्मीर से विशेष नाता रहा है। 17 जुलाई, 2015 को गिरधारी लाल डोगरा ट्रस्ट की ओर से आयोजित कार्यक्रम में जेटली अपने साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी लेकर आए थे।

5 of 5
अरुण जेटली (फाइल फोटो)
जेटली जम्मू और विशेष रूप से हीरानगर के लोगों को विशेष तरजीह देते थे। क्षेत्र और इलाके के लोगों की अच्छी पहचान रखने वाले जेटली अक्सर लोगों के काम आते रहे हैं। यही वजह है कि न सर्फ भाजपा बल्कि अन्य राजनीतिक दलों के लोगों में भी शोक की लहर है। जेटली के जाने का नुकसान सिर्फ हीरानगर ही नहीं पूरे जम्मू कश्मीर के लोगों को है। गांव में मायूसी छाई है।
विज्ञापन

Recommended Videos

Next
Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।