शहर चुनें

अपना शहर चुनें

Top Cities
States

उत्तर प्रदेश

दिल्ली

उत्तराखंड

हिमाचल प्रदेश

जम्मू और कश्मीर

पंजाब

हरियाणा

विज्ञापन

31 साल पहले इस सिंगर को गोलियों से भून डाला था, 365 दिन में इतने स्टेज शोज का बनाया था रिकॉर्ड

एंटरटेनमेंट डेस्क, अमर उजाला Updated Sun, 21 Jul 2019 11:42 AM IST
1 of 8
अमर सिंह चमकीला - फोटो : social media
अमर सिंह चमकीला एक ऐसा नाम है जिन्हें पंजाबी लोकगीत और अपनी बेहतरीन स्टेज परफॉर्मेंस के लिए जाना जाता है। चमकीला एक मशहूर पंजाबी सिंगर थे साथ ही साथ वह खुद ही अपने गाने लिखते थे। उनका अपना एक बैंड भी था जिसमें दो लोग और उनकी पत्नी अमरजोत सिंह चमकीला, जिनके साथ वह गाना भी गाते और तुम्बी भी बजाया करते थे। वह सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि दुनिया भर में मशहूर थे। उनके सुपरहिट गानों में ललकारे नाल और कुछ धार्मिक गीत बाबा तेरा ननकाना, तलवार मैं कलगीधार दी काफी लोकप्रिय रहे थे। आज उनका जन्मदिन है।
विज्ञापन

2 of 8
अमर सिंह चमकीला - फोटो : social media
करियर की शुरूआत
अमर सिंह चमकीला का जन्म 21 जुलाई 1960 को डुग्री गाँव लुधियाना में हुआ था। पढाई पूरी करने के बाद वह इलेक्ट्रीशियन बनना चाहते थे, लेकिन उन्हें नौकरी एक कपड़े की मिल में मिली। उन्हें संगीत का शौक था तो कुछ सालों में वह हारमोनियम और ढोलकी बजाना सीख गए। 18 साल की उम्र में उनका मिलना सुरेंद्र शिंदा से हुआ, तब सुरेंद्र को पता लगा कि अमर सिंह  कितने प्रतिभाशाली थे। फिर सुरेंद्र और अमर ने एक साथ काम करना शुरू कर दिया, और अमर सिंह ने अपने नाम के आगे चलकीला लगा लिया। जिसके बाद कुछ ही समय में उनकी शादी भी हो गई। 

3 of 8
अमर सिंह चमकीला - फोटो : social media
ऐसे हुई गायन की शुरुआत
शादी हुई तो घर की जिम्मेदारियाँ भी बढ़ गई, पर तब तक वह कुछ खास गाया नहीं करते थे, वह ज्यादातर सुरेंद्र के लिए गाने लिखा करते थे। पैसों की जरूरत के चलते उन्होंने खुद सोलो परफॉर्मेंस देना शुरु कर दिया था। वह अकसर अपने गाने में दुनिया की सच्चाई लोगों के सामने रखते थे। इसके चलते उनके गानों को लोग पसंद करने लगे, फिर धीरे धीरे उनकी लोकप्रियता बढ़ती चली गई।

4 of 8
amar singh chamkila - फोटो : file photo
कुछ समय बाद चमकील ने सोनिया शिंदा के साथ मिलकर स्टेज परफॉर्मेंस देने लगे था। दरअसल सोनिया शिंदा, सुरेंद्र शिंदा के साथ गाया करती थीं, लेकिन सुरेंद्र जब कनाडा के टूर पर गए थे तब वह अपने साथ एक और लोकप्रिय सिंगर गुलशन कोमल ले गए थे। जिसके चलते सोनिया ने चमकीला को कहा कि वह अपनी एक एल्बम रिकॉर्ड करें। जिसके बाद 1981 में दोनों ने मिलकर आठ गाने रिकॉर्ड किए, एल्बम बापू साडा गुम हो गया के नाम से। 

5 of 8
अमर सिंह चमकीला - फोटो : social media
कहानी का तीसरा कोण
उसके बाद उन्होंने एक और सिंगर के साथ काम किया जिनका नाम था मिस उषा। उसी साल उन्होने अमरजोत के साथ भी काम किया था। अमरजोत खुद भी काफी लोकप्रिय थीं, कुलदीप मानक जैसे जाने माने सिंगर के साथ भी वह काम कर चुकी थीं। जिसके बाद, जल्द यह जोड़ी बहुत लोकप्रिय हो गई। इस लोकप्रियता को बरकरार रखने के लिए अमर सिंह चमकीला ने 23 मई 1983 में अमरजोत के साथ दूसरी शादी की थी।

6 of 8
अमर सिंह चमकीला - फोटो : social media
देखा जाए तो उनके सितारे इस शादी के बाद ही चमक उठे, क्योंकि शादी के कुछ ही साल में उन्होंने कई गाने रिकॉर्ड कर लिए, और साथ ही साथ वह कनाडा, यूएस, दुबई, और बहरीन जैसे देशों में भी लाइव परफॉर्मेंस देकर आए। उनका करियर चमक उठा, जिसके चलते उन्होंने लोगों की शादियों में भी परफॉर्मेंस देना शुरु कर दिया। उस समय में वह 4000 रुपये लिया करते थे। पंजाब में अकसर उनकी परफॉर्मेंस अखाड़ों में हुआ करती थीं, जहां वह अपने लिखे गानों को रिकॉर्ड करने से पहले लोगों को सुनाया करते थे। इसके अलावा वह उस समय दूसरे सिंगर्स के लिए गाने भी लिखते थे, जिनमे कुछ सुरेंद्र शिंदा, जगमोहन कौर और केएस कूनर जैसे नाम शामिल हैं।

7 of 8
अमर सिंह चमकीला - फोटो : social media
पहला फिल्मी गाना
कुछ सालों बाद 1985 में चमकीला ने बाबा तेरा ननकाना, नाम जप ले, तलवार मैं कलगीधार दी जैसे धार्मिक गीत भी रिकॉर्ड किए। जिसके चलते वह काफी लोकप्रिय हो गए, और इनसे आए पैसों को उन्होंने दान कर दिया था। इनका एक गाना पहले ललकारे नाल 1987 में पहली बार फिल्म पटोला में भी दर्शाया गया था। 

8 of 8
अमर सिंह चमकीला मर्डर मिस्ट्री
एक रहस्यमयी हत्या
1988 में जब चमकीला महसामपुर पंजाब में एक फरफॉर्मेंस देने जा रहे थे, उस दौरान बाइक सवार बदमाशों ने उन्हें गोलियों से छलनी कर दिया। चमकीना के साथ उनकी पत्नी की भी हत्या कर दी गई थी। उस वक्त चमकीला की उम्र मात्र 27 साल थी। चमकीला को मारने वाले बाइक सवार बदमाश कभी नहीं पकड़े गए और न ही ये पता चला पाया कि उनकी मौत के पीछे कौन था?
विज्ञापन

Recommended Videos

Next
Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।