शहर चुनें

अपना शहर चुनें

Top Cities
States

उत्तर प्रदेश

दिल्ली

उत्तराखंड

हिमाचल प्रदेश

जम्मू और कश्मीर

पंजाब

हरियाणा

विज्ञापन

Narendra Modi: कहानी उस डायरी की...जिसे लिखकर उसके पन्ने जला देते थे नरेंद्र मोदी

एजुकेशन डेस्क, अमर उजाला Updated Tue, 17 Sep 2019 09:16 AM IST
1 of 9
पीएम नरेंद्र मोदी - फोटो : Social Media

खास बातें

  • कभी डायरी लिखा करते थे पीएम मोदी, फिर जला देते थे उसके पन्ने
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लिखी हैं कई किताबें
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को आप कितना जानते हैं? रोजाना आने वाली खबरों में उनके बारे में पढ़ते, सुनते होंगे। उन पर लिखी गई कोई किताब पढ़ी होगी। लेकिन क्या आपको पता है कि अपने प्रधानमंत्री को करीब से जानने और समझने का सबसे बेहतरीन जरिया एक खास किताब है। इसके बारे में नरेंद्र मोदी ने खुद बताया है। इतना ही नहीं, इस किताब के छपने की कहानी भी अपने आप में बेहद रोचक है।

वो कौन सी किताब है? इसे मोदी ने कब और कैसे लिखा? इसमें किस बारे में बात की गई है? क्या है इसके छपने की कहानी? इस बारे में हम आपको आगे बता रहे हैं।
विज्ञापन

2 of 9
नरेंद्र मोदी - फोटो : PTI
ये कहानी तब की है जब मोदी युवा अवस्था में थे। ये कहानी उस युवा नरेंद्र मोदी की है जो लगभग हर रोज डायरी लिखा करते थे। लेकिन आश्चर्य की बात ये है कि वो हर 6 से 8 महीने के बाद वो उस डायरी के लिखे पन्ने जला दिया करते थे।

3 of 9
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (फाइल फोटो) - फोटो : PTI
एक दिन मोदी के एक प्रचारक मित्र नरेंद्र भाई पंचासरा ने उन्हें ऐसा करते देखा। उन्होंने नरेंद्र मोदी को समझाया और ऐसा करने से मना किया। बाद में नरेंद्र मोदी की उस डायरी के बचे पन्नों ने एक किताब का रूप लिया। ये किताब 36 साल के नरेंद्र मोदी के विचारों का संग्रह है। क्या है इसका नाम और मोदी ने खुद इसके बारे में क्या कहा है, आगे पढ़ें।

4 of 9
पीएम मोदी की किताब साक्षीभाव - फोटो : pmindia
इस किताब का नाम है - साक्षीभाव। इसके बारे में नरेंद्र मोदी ने कहा है, 'जब मैं 36 साल का था तब जगद्जननी मां के साथ मेरे संवाद का संकलन है साक्षीभाव। यह किताब पाठक को मेरे साथ जोड़ती है। पाठक को न केवल समाचार पत्रों द्वारा, बल्कि मेरे शब्दों द्वारा मुझे जानने में मदद करती है।'

5 of 9
Narendra Modi - फोटो : अमर उजाला
इस किताब में उस डायरी में लिखी बातें छपी हैं जिसमें मोदी दुर्गा मां के साथ अपने संवाद लिखते थे। मोदी ने उन्हें कविता का रूप दिया है।

6 of 9
पीएम मोदी (फाइल फोटो) - फोटो : PTI
कविताओं से मोदी को खास लगाव है। इसके बारे में उनका कहना है कि 'जिसकी व्याख्या गद्य (कहानियों) में नहीं की जा सकती, उसे आमतौर पर कविता में व्यक्त किया जा सकता है।' 

साक्षीभाव के अलावा पीएम मोदी ने कई किताबें लिखीं। कुछ के बारे में आगे बताया जा रहा है।

7 of 9
पीएम मोदी की किताब ज्योतिपुंज - फोटो : pmindia
ज्योतिपुंज - इस किताब में मोदी के आरएसएस (RSS) जीवन के समय की भावनाओं का जिक्र है। गुरु गोलवलकर से लेकर वसंतराव चिपलंकर तक, करीब एक दर्जन से ज्यादा ऐसे प्राचरकों के बारे में लिखा मोदी ने लिखा है जिनसे उन्हें प्रेरणा मिली।

8 of 9
पीएम मोदी की किताब सोशल हार्मनी - फोटो : pmindia
सोशल हार्मनी - यह किताब मोदी के बाल जीवन से लेकर अब तक की सोच के बारे में है। इसमें उन्होंने अपने तर्कों के लिए कई उदाहरण भी पेश किए हैं।

ये भी पढ़ें : बॉलीवुड की इस फिल्म से पीएम मोदी को मिली थी प्रेरणा, ये है प्रधानमंत्री का पसंदीदा गाना

9 of 9
पीएम मोदी की किताब एग्जाम वॉरियर्स - फोटो : pmindia
एग्जाम वॉरियर्स - पीएम मोदी की इस किताब का प्रकाशन पिछले साल ही हुआ है। इसमें उन्होंने परीक्षा की तैयारी, उस दौरान होने वाली घबराहट व तनाव को दूर भगाने के तरीके बताए हैं। यह किताब खास तौर पर स्टूडेंट्स के लिए लिखी गई है।

ये भी पढ़ें : पीएम मोदी की कैबिनेट में इस यूनिवर्सिटी से पढ़े मंत्री सबसे ज्यादा, ये कभी नहीं लड़े छात्रसंघ चुनाव
विज्ञापन

Recommended Videos

Next
Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।