शहर चुनें

अपना शहर चुनें

Top Cities
States

उत्तर प्रदेश

दिल्ली

उत्तराखंड

हिमाचल प्रदेश

जम्मू और कश्मीर

पंजाब

हरियाणा

विज्ञापन

वीरेंद्र मान उर्फ काले हत्याकांड में अब तक का सबसे बड़ा खुलासा, इनामी बदमाश कपिल ने खोला राज

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Updated Mon, 16 Sep 2019 07:55 PM IST
1 of 6
विरेंद्र मान उर्फ काला हत्याकांड - फोटो : अमर उजाला
बाहरी-उत्तरी जिला के स्पेशल स्टाफ ने नरेला इलाके में गत आठ सितंबर को हुई वीरेंद्र मान उर्फ काले हत्याकांड की गुत्थी को सुलझा लिया है। इस मामले में पुलिस ने सवा लाख के इनामी खेड़ा-खुर्द निवासी कपिल मान उर्फ कालू (25) को गिरफ्तार किया है। कपिल पर हत्या, हत्या के प्रयास, लूटपाट समेत आठ मामले दर्ज हैं। जुलाई 2018 में खेड़ा निवासी प्रवेश मान ने कपिल के चाचा सूर्या प्रकाश उर्फ बबलू खेड़ा उर्फ गंजा की हत्या कर दी थी। 
विज्ञापन

2 of 6
मृतक वीरेंद्र का फाइल फोटो - फोटो : अमर उजाला
कपिल को शक था कि वीरेंद्र प्रवेश की मदद कर रहा है। इसी का बदला लेने के लिए कपिल ने गैंगस्टर जितेंद्र गोगी, कुलदीप उर्फ फज्जा मोहित व एक अन्य साथ मिलकर वीरेंद्र की हत्या कर दी थी। पुलिस को फरार सभी आरोपियों की तलाश है। सोमवार को पुलिस ने कपिल को कोर्ट में पेश किया, जहां से अदालत ने उसे 10 दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया।

3 of 6
जांच में जुटी पुलिस - फोटो : अमर उजाला
बाहरी-उत्तरी जिला पुलिस उपायुक्त गौरव शर्मा ने बताया कि आठ सितंबर को एक रिश्तेदार की तेरहवीं से लौटते समय वीरेंद्र काले नरेला इलाके में लामपुर मोड़ के पास पहुंचा था। साथ में कार चालक दिनेश भी था। जब कार ट्रैफिक में रुकी तो पीछे से स्विफ्ट डिजायर कार से आए पांच बदमाशों ने तोबड़तोड़ गोलियां बरसाकर वीरेंद्र की हत्या कर दी थी। लोकल पुलिस के अलावा जिले के स्पेशल स्टाफ ने भी मामले की छानबीन की। इंस्पेक्टर अजय कुमार, एसआई कमलेश कुमार आदि की टीम ने हत्याकांड की कड़ी जोड़ना शुरू किया। पुलिस को पता चला कि वारदात में खेड़ा गांव के ही कपिल मान आदि का हाथ है।

4 of 6
जांच में जुटी पुलिस - फोटो : अमर उजाला
रविवार को पुलिस ने आरोपी कपिल को सेक्टर-34, खेड़ा नहर के पास से गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में आरोपी ने हत्या में शामिल होना स्वीकार किया। आरोपी ने बताया कि उसके चाचा के हत्यारोपियों की मदद करने के आरोप में ही उसने वीरेंद्र काले की हत्या की। वारदात के समय उसके साथ गैंगस्टर जितेंद्र गोगी, कुलदीप उर्फ फज्जा, मोहित व एक अन्य युवक था। सभी ने एक साथ पिस्टल से वीरेंद्र पर गोलियां दागी थी। बता दें कि कुख्यात बदमाश रहे वीरेंद्र मान उर्फ काले ने बीएसपी के टिकट से विधानसभा चुनाव भी लड़ा था। फिलहाल वह आम आदमी पार्टी के पोस्टरों में दिख रहा था।

5 of 6
घायल को ई-रिक्शा में ले जाते हुए - फोटो : अमर उजाला
कपिल को लेना था चाचा की मौत का बदला
वीरेंद्र मान उर्फ काले, प्रवेश मान और कपिल मान सभी बाहरी दिल्ली के खेड़ा-खुर्द गांव के रहने वाले हैं। जुलाई 2018 में गांव के झगड़े में प्रवेश मान ने अपने साथियों के साथ मिलकर कपिल के चाचा सूर्या प्रकाश उर्फ बबलू खेड़ा (50) की अशोक विहार इलाके में हत्या कर दी थी। बबलू ने ही कपिल का पालन-पोषण किया था। इसलिए वह चाचा की हत्या का बदला लेना चाहता था। पुलिस ने बबलू की हत्या के मामले में आरोपी प्रवेश को वीरेंद्र की कार से गिरफ्तार कर लिया। वहीं, कपिल को वीरेंद्र पर आरोपियों की मदद करने का शक हो गया।

6 of 6
कार में गोलियों के निशान - फोटो : अमर उजाला
कपिल ने चाचा की हत्या के शक के आधार पर तीन जनवरी 2018 को केएन काटजू मार्ग इलाके में प्रवेश के भाई अनिल उर्फ बंटू की गोली मारकर हत्या कर दी। इसके बाद प्रवेश की मदद करने के शक में उसने मनीष व संदीप पर भी गोली चलाकर जानलेवा हमला किया। कुछ दिनों बाद प्रवेश पैरोल पर बाहर आ गया तो वीरेंद्र उसकी मदद करने लगा। यह बात कपिल को नागवार गुजरी और उसने अपने साथियों संग आठ सितंबर को वीरेंद्र का पीछा किया। मौका मिलते ही लामपुर मोड़ के पास उसकी हत्या कर आरोपी फरार हो गए।
विज्ञापन

Recommended Videos

Next
Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।