शहर चुनें

अपना शहर चुनें

Top Cities
States

उत्तर प्रदेश

दिल्ली

उत्तराखंड

हिमाचल प्रदेश

जम्मू और कश्मीर

पंजाब

हरियाणा

विज्ञापन

बंदूक के बल पर वाहन चेकिंग का वीडियो वायरल, सपा सांसद ने कहा- यह भाजपाइयों का रिटर्न गिफ्ट

न्यूज डेस्क/अमर उजाला, लखनऊ Updated Tue, 25 Jun 2019 04:52 PM IST
बदायूं के वजीरगंज में पिस्टल तानकर वाहन चेक करते चौकी प्रभारी - फोटो : अमर उजाला
सोशल मीडिया पर बदायूं पुलिस के वाहन चेकिंग का वीडियो वायरल होने से विभाग की खूब फजीहत हो रही है। वीडियो में पुलिस को बंदूक के बल पर वाहन चेकिंग करते हुए देखा जा रहा है। हर तरफ हो रही विभाग की आलोचना को देखते हुए सोमवार को एजीडी कानून व्यवस्था पीवी रामाशास्त्री ने बदायूं एसपी से जवाब मांगा है।

दरअसल, वायरल वीडियो में देखा जा रहा है कि वाहन चेकिंग के लिए रोकी गई मोटर साइकिल को पुलिस चारों ओर से घेर लेती है। एक पुलिस कर्मी बाइक चालक से दोनों हाथ ऊपर उठाने और बात न मानने पर गोली मारने की चेतावनी दे रहा है। सिपाही कह रहा है कि हाथ नीचे किए तो गोली लग जाएगी। इस पर बाइक सवार कहता है कि कुछ भी तो नहीं है। सिपाही जेब चेक करते हुए कहता है कि हेलमेट कौन लगाएगा?

यहां देखें पूरा वीडियो:

विज्ञापन

किन परिस्थितियों में पुलिस ने उठाया यह कदम

प्रतीकात्मक तस्वीर
सोशल मीडिया पर इस तरह हो रही खिंचाई   
- यह कश्मीर या सीरिया नहीं, यूपी का बदायूं है, जहां आम आदमी की भी आतंकियों की तरह चेकिंग की जाती है।
-  कमजोर दिल वाले इन रास्तों से न गुजरें, यूपी पुलिस ड्यूटी पर है।  

वाहनों की चेकिंग, अपराधी की तलाशी लेना और किसी ऑपरेशन के दौरान अपराधी को पकड़ने के अलग-अलग तरीके होते हैं। ‘टेक्निकल तकनीक का इस्तेमाल किसी ऑपरेशन या किसी अपराधी को पकड़ने के लिए किया जाता है। रूटीन चेकिंग में किन परिस्थितियों में पुलिस ने यह कदम उठाया, इसका जवाब बदायूं एसपी से मांगा गया है।  - पीवी रामाशास्त्री, एडीजी कानून व्यवस्था

खुद को सुरक्षित करने का है तरीका

प्रतीकात्मक तस्वीर
कई बार चेकिंग में अपराधी पुलिस पर फायरिंग कर देते हैं, इससे पुलिस कर्मियों की जान खतरे में पड़ जाती है। ऐसे में एहतियातन टेक्निकल तकनीक का प्रयोग करने के लिए कहा गया है, जिसमें एक-दो कर्मी तलाशी लें और बाकी अलर्ट पोजिशन में रहें। इसका उद्देश्य अपने आप को सुरक्षित रखने का है ताकि आपराधिक प्रवृत्ति के लोग पुलिस पर हमला न कर सकें। - अशोक कुमार त्रिपाठी, एसपी बदायूं

भाजपाइयों का रिटर्न गिफ्ट : धर्मेंद्र
बदायूं से सपा के पूर्व सांसद धर्मेंद्र यादव ने ट्विटर पर वीडियो साझा करते हुए लिखा, ‘ हाथ ऊपर वरना गोली मार देंगे। अपराध रोकना तो दूर, निर्दोषों के साथ अपराधियों जैसा सलूक। वाहन चेकिंग के नाम पर आम जनता से अपराधियों जैसा व्यवहार ना काबिले बर्दाश्त। वोट लेकर सत्ता पर काबिज भाजपाइयों का यह रिटर्न गिफ्ट है।’
विज्ञापन

Recommended

budaun police crime in lucknow lucknow police uttar pradesh police vehicle checking

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Recommended Videos

Next
Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।