शहर चुनें

अपना शहर चुनें

Top Cities
States

उत्तर प्रदेश

दिल्ली

उत्तराखंड

हिमाचल प्रदेश

जम्मू और कश्मीर

पंजाब

हरियाणा

ठेकेदार की हत्या मामले में भाजपा विधायक के खिलाफ केस दर्ज, विधायक बोले- आरोप बेबुनियाद

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, अयोध्या Updated Sat, 22 Dec 2018 06:33 PM IST
विज्ञापन
मृतक ग्राम प्रधान अजय प्रताप सिंह। - फोटो : amar ujala

विज्ञापन मुक्त विशिष्ट अनुभव के लिए अमर उजाला प्लस के सदस्य बनें

Subscribe Now
ठेकेदार अजय प्रताप सिंह की अयोध्या में शनिवार शाम थाना कैंट अंतर्गत कौशलपुरी कॉलोनी में उनके आवास पर गोली मारकर हत्या कर दी गई। गोली उनके सिर में लगी। अजय के पिता राजकुमार सिंह ने गोसाईंगंज के भाजपा विधायक इंद्रप्रताप तिवारी उर्फ खब्बू तिवारी पर हत्या, वसूली, साजिश रचने के आरोपों में मामला दर्ज किया गया है। उन्होंने कहा है कि विधायक उनके बेटे को अवैध वसूली के लिए लगातार धमकी दे रहे थे।

हैदरगंज थाना क्षेत्र के बैतीकला की ग्राम प्रधान शीला सिंह के छोटे बेटे अजय प्रताप सिंह उर्फ सोनू थाना कैंट अंतर्गत कौशलपुरी कॉलोनी फेज-2 में अपने निजी आवास पर पत्नी रिंपल, तीन बेटियों निधि, रिया, सुवी व बेटे रुद्र प्रताप के साथ रहते थे। वह बालू समेत बिजली अन्य विभागों में ठेकेदारी भी करते थे। उनकी मां शीला शनिवार को अपने पोते-पोतियों के साथ बाजार गई थीं।

शाम करीब चार बजे लौटीं तो कमरे में अजय बेड के नीचे लहूलुहान गिरे मिले। दादी व पोतियों के शोर मचाने पर आसपास के लोग पहुंचे और उन्हें जिला अस्पताल लेकर गए, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। डॉक्टरों के अनुसार माथे पर गोली लगने से उनकी मौत हुई है। घटना की सूचना पर एसएसपी जोगेंद्र कुमार, एसपी सिटी अनिल सिंह सिसौदिया, सीओ सिटी धनंजय कुशवाहा, सीओ बीकापुर अरविंद चौरसिया, एसडीएम सदर मधुसूदन नागराज समेत अन्य अधिकारी अस्पताल पहुंचे।

अजय के पिता राजकुमार सिंह ने दर्ज कराए गए केस में बताया कि एक सप्ताह पूर्व पिपरी टोल प्लाजा पर अजय व भाजपा विधायक के बीच किसी बात को लेकर नोकझोंक हुई थी। इस दौरान विधायक ने उन्हें जान से मारने की धमकी दी थी। बताया कि इस बाबत थाना हैदरगंज व सीओ बीकापुर से शिकायत भी की गई थी, लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। सीओ सिटी धनंजय कुशवाहा ने बताया कि विधायक के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।
विज्ञापन

विधायक बोले-आरोप बेबुनियाद

विधायक इंद्र प्रताप तिवारी ने ठेकेदार की हत्या के आरोप को बेबुनियाद बताते हुए इसे विरोधियों की साजिश बताया। कहा, राजनीतिक प्रतिद्वंद्विता में मेरा नाम उछलवाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि मुझे अभी इस घटना की जानकारी भी नहीं है। घटना की गहन जांच की आवश्यकता है।
विज्ञापन

Recommended

uttar pradesh news crime in uttar pradesh
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Recommended Videos

Most Read

Next
Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।