शहर चुनें

अपना शहर चुनें

Top Cities
States

उत्तर प्रदेश

दिल्ली

उत्तराखंड

हिमाचल प्रदेश

जम्मू और कश्मीर

पंजाब

हरियाणा

विज्ञापन

मोहनलालगंज: 12 घंटे मौत से संघर्ष करने के बाद प्रॉपर्टी डीलर ने तोड़ा दम, देर रात मौत

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, लखनऊ Updated Tue, 17 Sep 2019 01:43 PM IST
प्रॉपर्टी डीलर का इलाज अस्पताल में चल रहा है। - फोटो : amar ujala
मोहनलालगंज में बदमाशों के हमले में घायल हुए प्रॉपर्टी डीलर ने 12 घंटे तक मौत से संघर्ष करने के बाद दम तोड़ दिया। उसे चार गोलियां लगी थीं। डॉक्टरों का कहना था कि किडनी व लीवर बुरी तरह डैमेज हुए हैं। बता दें कि तीन बदमाशों ने मोहनलालगंज कस्बे में आदर्श शिक्षा निकेतन पब्लिक स्कूल के सामने प्रॉपर्टी डीलर अशोक यादव पर गोलियां बरसा दी थीं। जिसके बाद उन्हें सीएचसी से ट्रॉमा सेंटर रेफर किया गया था। जहां उन्होंने देर रात दम तोड़ दिया।

वारदात सोमवार दोपहर उस समय हुई जब स्कूल से छुट्टी के बाद बच्चे घर के लिए निकल रहे थे। फायरिंग से बच्चे सहम गए, वहीं दुकानदार अपनी दुकानें बंद कर भाग निकले। दहशत से करीब तीन घंटे तक बाजार बंद रहा। अपराधियों की धरपकड़ के लिए क्राइम ब्रांच सहित कई टीमें लगाई गई थीं। 

दोपहर के करीब 1.40 बजे थे। स्कूल की कुछ देर पहले ही छुट्टी हुई थी। बच्चे घर के लिए निकल रहे थे। स्थानीय लोगों के मुताबिक, इसी दौरान प्रॉपर्टी डीलर अशोक यादव एसयूवी से आदर्श शिक्षा निकेतन पब्लिक  स्कूल के गेट के सामने पहुंचे। उन्होंने अभी उतरने की कोशिश ही की थी कि बाइक सवार तीन बदमाश आ गए। बाइक की रफ्तार हल्की धीमी हुई और पीछे बैठे दो बदमाशों ने गोलियां बरसानी शुरू कर दी। 

करीब 10 राउंड गोलियां चलाने के बाद बाइक चला रहा बदमाश भी नीचे उतरा। उसने भी अशोक को निशाना बनाकर गोलियां चलाईं। भीड़ को आता देख बदमाश हवा में फायरिंग करते हुए शहर की तरफ भाग गए।
विज्ञापन

दुकानदार से लगाई जान बचाने की गुहार 

बदमाशों के जाने के बाद अशोक लहूलुहान हालत में एसयूवी से बाहर निकले। पास की दुकान पर गए। दुकानदार शेखर अवस्थी से जान बचाने की गुहार लगाई। शेखर ने घायल अशोक को अन्य दुकानदारों की मदद से सीएचसी लेकर गए। रास्ते में पुलिस कंट्रोल रूम को भी सूचना दी। सीएचसी पहुंचने के बाद डॉक्टरों ने हालत गंभीर देख ट्रॉमा सेंटर रेफर कर दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने घायल प्रॉपर्टी डीलर को एंबुलेंस से ट्रॉमा सेंटर भेजा।

बच्चों में मची चीख-पुकार, किसी तरह किया स्कूल के अंदर
स्कूल के ठीक सामने गोलियों की तड़तड़ाहट से बच्चे दहशत में आ गए। बच्चे चीखने लगे। किसी तरह स्थानीय लोगों की मदद से स्कूल के शिक्षकों ने बच्चों को वापस अंदर किया। बच्चे काफी दहशत में थे। स्कूल केअंदर भी उनका रोना बिलखना बंद नहीं हुआ। किसी तरह परिवारीजनों को सूचना दी गई। उनके साथ ही बच्चों को भेजा गया।

कस्बे में पसर गया सन्नाटा, पुलिस पहुंची तब घरों से निकले

दिनदहाड़े वारदात होते ही इलाके में सन्नाटा पसर गया। पुलिस केपहुंचने के बाद लोग घरों से बाहर निकले। पड़ताल केबाद भी पुलिस ने इस बात की पुष्टि नहीं की है कि बदमाशों ने कितने राउंड गोलियां बरसाईं थीं। 

मौके पर मिले 10 खोखे
पड़ताल के दौरान पुलिस टीम को मौके से .32 बोर के 10 खोखे मिले।  प्रॉपर्टी डीलर के बेटे विशाल की तहरीर पर पुलिस ने अज्ञात बदमाशों के खिलाफ हत्या की कोशिश और इलाके में दहशत फैलाने का मुकदमा दर्ज किया है। 

सेना से रिटायर होने के बाद प्रॉपर्टी डीलर का काम
प्रभारी निरीक्षक मोहनलालगंज गऊदीन शुक्ला के मुताबिक, परवर पश्चिम के मेड़ई खेड़ा निवासी सेना से रिटायर अशोक यादव एलडीए के सेक्टर एच में परिवार के साथ रहते हैं। परिवार में पत्नी बीना सिंह दो बेटे विशाल और अतुल है। 2011 में रिटायर होने के बाद अशोक यादव ने प्रॉपर्टी का काम शुरू किया।

ट्रॉमा सेंटर में प्रॉपर्टी डीलर अशोक यादव का ऑपरेशन किया गया। एक ही गोली निकाली जा सकी है। तीन गोली अभी भी उनके शरीर में है। डॉक्टरों के मुताबिक अशोक का लीवर और किडनी पर गोली के कारण काफी खराब असर पड़ा है। स्थिति काफी खराब है। 

मौके पर पहुंचे आईजी व एसएसपी

हमले की सूचना मिलते ही आननफानन एसएसपी कलानिधि नैथानी मौके पर पहुंचे। कुछ देर बाद आईजी एसके भगत भी पहुंचे। दोनों अधिकारियों ने एएसपी ग्रामीण विक्रांत वीर को वारदात का खुलासा करने का निर्देश दिया। 

फुटेज में दिखे हमलावर, पर बाइक का नंबर नजर नहीं आया 
करीब एक किलोमीटर के दायरे में दुकानों, बैंक, होटलों, स्कूलों में लगे सीसीटीवी कैमरों के  फुटेज खंगाले गए। जिसमें एक काली बाइक पर सवार तीन बदमाश जाते हुए दिखे। किसी भी फुटेज में उनके बाइक का न तो नंबर दिखा और न ही किसी बदमाश ने अपना हेलमेट उतारा। कोई खास अहम सुराग हाथ नहीं लगा।

प्रॉपर्टी डीलर का पूरा इतिहास खंगाल रही एक टीम
प्रॉपर्टी डीलर पर किन कारणों से हमला किया गया, इसके लिए एक टीम को उनके कारोबार से लेकर निजी मामलों की पड़ताल के लिए लगाया गया है। उस विवाद का पता लग सके जिसके कारण उन पर हमला किया गया है। पुलिस इसके लिए मंगलवार को उनके कार्यालय भी जाएगी। पुलिस परिवारीजनों से भी पूछताछ कर रही है। वहीं प्रॉपर्टी डीलर के मोबाइल की कॉल डिटेल निकलवा रही है।
विज्ञापन

Recommended

mohanlalganj news firing property dealer ashok yadav

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Recommended Videos

Related

Next
Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।