शहर चुनें

अपना शहर चुनें

Top Cities
States

उत्तर प्रदेश

दिल्ली

उत्तराखंड

हिमाचल प्रदेश

जम्मू और कश्मीर

पंजाब

हरियाणा

विज्ञापन

जब राजनारायण के बदले कैप्टन साहब ने खाई डॉ. लोहिया से डांट, पढ़ें- एक मजेदार वाक्या

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, लखनऊ Updated Mon, 04 Mar 2019 05:11 PM IST
नखलऊवा पंच में हम ऐसी महान विभूतियों के संस्मरण शामिल करते हैं जिन्होंने देश व समाज पर गहरी छाप छोड़ी। पढ़ें, एक मजेदार वाक्या...

बात 1967 की है। कैप्टन अब्बास अली संयुक्त सोशलिस्ट पार्टी के प्रदेश महामंत्री थे। उत्तर प्रदेश में राज्य कर्मचारियों की हड़ताल चल रही थी। राजनारायण ने 18 जनवरी को कैप्टन साहब के नाम से बयान जारी कर दिया कि हड़ताल को देखते हुए राज्य सरकार फरवरी में प्रस्तावित आम चुनाव को उस वक्त तक के लिए स्थगित करा दे जब तक कर्मचारी काम पर लौट न आएं।

यह खबर अखबारों ने प्रमुखता से छापा। हड़कंप मच गया। कैप्टन साहब की समझ में नहीं आ रहा था कि ये क्या हो गया। डॉ. राममनोहर लोहिया 21 जनवरी को लखनऊ आ रहे थे। उनका लखनऊ, बाराबंकी, बस्ती, गोरखपुर सहित कई जिलों का दौरा था।

न रहूं किसी का दस्तनिगर में कैप्टन अब्बास अली ने लिखा है, ‘सुबह सात बजे मैं चारबाग स्टेशन डॉ. लोहिया को लेने पहुंचा। मैं उनका स्वागत करने बढ़ा ही था कि वह बेहद नाराजगी में बोले, ‘तुमने ऐन चुनाव के वक्त इस तरह का गलत बयान क्यों दे दिया?

जानते हो, तुम्हारे इस बयान की आड़ लेकर अगर सरकार ने फरवरी में चुनाव मुल्तवी कराने की चाल चल दी तो क्या होगा?’
विज्ञापन

'नहीं बता रहा हूं तो खुद सुन रहा हूं'

डॉक्टर साहब बोल रहे थे और मैं सोच रहा था कि सत्य बता दूं तो राजनारायण को डांट पड़ेगी, नहीं बता रहा हूं तो खुद सुन रहा हूं। मैं डॉ. साहब के साथ बाराबंकी पहुंचा। वहां उन्हें रामसेवक यादव का चुनाव प्रचार करना था। डॉक्टर साहब ने यादव जी से मेरे बयान का जिक्र किया।

यादव जी ने सच्चाई बताई तो डॉक्टर साहब ने मुझसे कहा, ‘बेकार में तुम्हें डांट दिया। बताना चाहिए था। अपने नाम से किसी को बयान न देने दो, भले ही वह वरिष्ठ नेता ही क्यों न हो।’
विज्ञापन

Recommended

nakhlaua punch dr ram manohar lohia

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Recommended Videos

Related

Next
Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।