शहर चुनें

अपना शहर चुनें

Top Cities
States

उत्तर प्रदेश

दिल्ली

उत्तराखंड

हिमाचल प्रदेश

जम्मू और कश्मीर

पंजाब

हरियाणा

विज्ञापन

वह कार चोर गैंग जिसने डीएसपी को भी न बख्शा, फिल्मी स्टाइल में वारदात को देते थे अंजाम, गिरोह बेनकाब

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, जम्मू Updated Fri, 23 Aug 2019 10:02 AM IST
पुलिस की गिरफ्त में कार चोर गैंग - फोटो : अमर उजाला
चोरी की गई गाड़ियों पर कंडम वाहनों के चेचिस और इंजन नंबर लगाकर बेचने वाले गिरोह के 4 लोगों को गांधीनगर पुलिस ने गिरफ्तार किया है। गिरोह में टेक्नीशियन और आरटीओ कार्यालय के एजेंट भी शामिल हैं जो बाद में आरसी बनाने का काम करते थे। इनसे अलग-अलग जगह से चोरी किए 5 वाहन बरामद हुए हैं। इनमें एक महिला डीएसपी की जिप्सी भी शामिल है जो मई में नानक नगर से चोरी हुई थी। गांधीनगर पुलिस के एसएचओ गुरनाम सिंह चौधरी के नेतृत्व में बनी टीम ने इस गिरोह का पर्दाफाश किया है।
विज्ञापन
एसपी साउथ विनय कुमार ने वीरवार को प्रेस वार्ता में बताया कि गिरोह का सरगना टीटू अलियास करम कुमार निवासी हरनाम नगर बटाला (पंजाब) का रहने वाला है जो इस समय वार्ड नंबर 13 शास्त्री नगर कठुआ में रह रहा था। पूछताछ में आरोपी ने जुर्म कबूल लिया है। अन्य आरोपियों में अश्वनी कुमार निवासी बिश्नाह, तजेंद्र सिंह निवासी प्रीत नगर डिगियाना और आफताब अहमद निवासी श्रीनगर शामिल हैं। आफताब वर्तमान में छन्नी हिम्मत में रह रहा था। इनसे पूछताछ जारी है।  

दूसरे प्रयास में चुराई थी डीएसपी की जिप्सी
पुलिस के मुताबिक यह गैंग प्लानिंग से गाड़ियां चुराता था। गैंग का हर सदस्य अपने-अपने काम में एक्सपर्ट था। महिला डीएसपी की जिप्सी चोरी करने के लिए इस गिरोह ने दो बार प्रयास किया है। एक बार असफल हुए तो दूसरी बार चोरी करने के लिए चुराई गई टाटा इंडिगो सीएस कार का इस्तेमाल किया। पुलिस ने जिप्सी और कार को कठुआ से बरामद किया है।

गाड़ी चोरी करने के बाद पुरानी गाड़ियों का काम करने वाले अश्वनी कुमार और तजेंद्र सिंह कंडम गाड़ियों के चेचिस और इंजन नंबर चोरी की गई गाड़ियों पर लगाते थे। दोनों इतनी सफाई से काम करते थे कि किसी को कोई भनक तक नहीं लगती थी। इसके बाद गिरोह में शामिल आरटीओ कार्यालय के एजेंट का काम शुरू होता था। अफताब नाम का एजेंट आरटीओ कार्यालय में अपनी साठगांठ से चोरी की गई गाड़ियों की नई आरसी तैयार करता था। इसके बाद गिरोह इन गाड़ियों को बेचने का काम करते थे। गिरोह ने मारुती जिप्सी, इंडिका विस्टा और दो एक्टिवा गांधीनगर से और इंडिगो सीएस को पक्का डांगा से चुराया था।
विज्ञापन

Recommended

car theft car thieves car thieves gang car thieves gang expose jammu jammu kashmir news kashmir news

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Recommended Videos

Next
Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।