शहर चुनें

अपना शहर चुनें

Top Cities
States

उत्तर प्रदेश

दिल्ली

उत्तराखंड

हिमाचल प्रदेश

जम्मू और कश्मीर

पंजाब

हरियाणा

विज्ञापन

जम्मू-कश्मीरः सेना के इस कदम से लोग ले सकेंगे अपने परिजनों का हालचाल

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, जम्मू Updated Fri, 23 Aug 2019 01:30 PM IST
सेना ने स्थापित किया संचार केंद्र - फोटो : ani
सेना ने बड़गाम जिले के शरीफाबाद में स्थित आतंकवाद रोधी बल (किलो फोर्स) के मुख्यालय के आसपास रहने वाले स्थानीय लोगों के लिए एक संचार केंद्र की स्थापना की है। बता दें कि घाटी में इंटरनेट सेवा बंद होने से लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। सेना के इस फैसले से लोग अपने परिजनों व रिश्तेदारों का हालचाल जान सकेंगे।
 

संचार केंद्र चालू होते ही स्थानीय लोगों की भीड़ लगी हुई है। तस्वीर के माध्यम से आप समझ सकते हैं कि काफी संख्या में लोग यहां पहुंच रहे हैं।

यह भी पढ़ेंः जम्मूः टाडा कोर्ट में पेश होगा यासीन मलिक, रुबिया सईद अपहरण और वायुसेना कर्मियों की हत्या का मामला
 
आपको बता दें कि पांच अगस्त को अनुच्छेद 370 हटाने के बाद उत्पन्न हालात तेजी से सुधरने के मद्देनजर कश्मीर घाटी के अधिकतर हिस्सों में पाबंदियों में ढील दे दी गई है। जगह-जगह से बैरिकेडिंग हटाए जाने से सड़कों पर निजी वाहनों की आवाजाही बढ़ी है। स्कूलों तथा कार्यालयों में उपस्थिति बढ़ी है। हालांकि, 18वें दिन गुरुवार को भी ज्यादातर बाजार बंद रहे। मोबाइल और इंटरनेट सेवा ठप है। सुरक्षा बलों का पहरा बरकरार है। कुछ इलाकों में छिटपुट पथराव के अलावा स्थिति शांतिपूर्ण है।
विज्ञापन

कई इलाकों से पत्थरबाजी की सूचना

दक्षिणी कश्मीर के मिडिल स्कूल में 20 फीसदी तो उत्तरी कश्मीर में 50 प्रतिशत उपस्थिति रही। श्रीनगर और बडगाम जिले में भी उपस्थिति बढ़ी है लेकिन निजी स्कूल बंद रहे। सरकारी कार्यालयों में जिला मुख्यालयों पर 70 फीसदी से अधिक हाजिरी रही। श्रीनगर के सिविल लाइंस के साथ ही अन्य इलाकों में सुबह छह से नौ बजे तक दुकानें खुल रही हैं। यहां लोगों की मौजूदगी भी दिख रही है।

श्रीनगर के पुराने शहर के कुछ इलाकों के साथ ही बटमालू, नौगाम, मोछुआ आदि इलाकों से पत्थरबाजी की खबर है। पथराव कर रहे लोगों को सुरक्षा बलों ने खदेड़ दिया। किसी के घायल होने की खबर नहीं है। अधिकारियों ने बताया कि कश्मीर के अनेक हिस्सों और श्रीनगर के अधिकतर हिस्सों में प्रतिबंधों में ढील दी गई है।

शहर के आवासीय क्षेत्रों, सिविल लाइंस क्षेत्र तथा अन्य जिलों के अधिकतर क्षेत्रों से बैरिकेडिंग हटा लिए गए हैं। दावा किया कि लैंडलाइन टेलीफोन सेवाएं अधिकतर स्थानों पर बहाल हो गई हैं। श्रीनगर के लाल चौक और प्रेस एनक्लेव सहित कई क्षेत्रों में लैंडलाइन टेलीफोन सेवा अब भी ठप है।
विज्ञापन

Recommended

communication centre communication centre for locals budgam district army jammu and kashmir news jammu kashmir news

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Recommended Videos

Related

Next
Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।