शहर चुनें

अपना शहर चुनें

Top Cities
States

उत्तर प्रदेश

दिल्ली

उत्तराखंड

हिमाचल प्रदेश

जम्मू और कश्मीर

पंजाब

हरियाणा

विज्ञापन

अमरनाथ यात्रा 2019: जम्मू से 30 जून को रवाना होगा पहला जत्था, टैगिंग सिस्टम से रहेगी हर वाहन पर नजर

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, जम्मू Updated Tue, 18 Jun 2019 04:53 PM IST
अमरनाथ यात्रा 2019 की तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा रहा है। आधार शिविर भगवती नगर जम्मू से बम बम भोले के जयघोष के साथ 30 जून को प्रात पहला जत्था रवाना होगा, जो अगले दिन आधिकारिक तौर पर एक जुलाई को पारंपरिक बालटाल और पहलगाम ट्रैक से पवित्र गुफा की ओर बढ़ेगा। जम्मू से पहले जत्थे को राज्यपाल के सलाहकार केके शर्मा हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगे। यात्रियों की सुरक्षा और सुविधाओं को पुख्ता बनाने के लिए सभी जरूरी इंतजाम किए जा रहे हैं। 

यहां पत्रकारों से रूबरू होते हुए मंडलायुक्त जम्मू संजीव वर्मा ने बताया कि आधार शिविर में यात्रियों को सभी तरह की सुविधाएं मुहैया करवाई जाएंगी। इसमें मेडिकल, पुलिस कंट्रोल रूम, जेएंडके एसआरटीसी काउंटर, बैंक सुविधा, सूचना व अनाउंसमेंट बूथ, क्लाक रूम, बेडिंग सेंटर, लंगर, फूड कोर्ट, सांस्कृतिक शाम, प्रीपेड सिम काउंटर, विभागीय स्टाल आदि शामिल होगा। 

हर तीस किमी. पर मोबाइल बायो टायलेट 
जम्मू से बनिहाल और जम्मू से पीर की गली रूट पर हर 30 किलोमीटर के अंतराल में मोबाइल बायो टायलेट स्थापित किए जाएंगे। राजोरी और पुंछ को शोपियां (कश्मीर) से जोड़ने वाले मुगल रोड को वैकल्पिक रूट के तौर पर इस्तेमाल किया जाएघा। यात्रा रूट पर पर्याप्त लंगर स्थापित किए जाएंगे। 
विज्ञापन

यात्री निवास से दोनों ट्रैक के लिए मिलेंगी बसें
आधार शिविर भगवती नगर जम्मू से देशभर से आने वाले यात्रियों को पारंपरिक पहलगाम और बालटाल ट्रैक के लिए बस सेवा मिलेगी। यात्री निवास पर सांग एंड ड्रामा डिवीजन की ओर से यात्रियों के लिए सांस्कृतिक प्रस्तुतियों का आयोजन किया जाएघा। 

यात्री वाहनों पर टैग लगेंगे
सुरक्षा कारणों से अमरनाथ यात्रियों को ले जाने वाले वाहनों पर टैग लगाया जाएगा, जिससे आपात स्थिति में वाहनों की लोकेशन का पता चल सके। इससे यात्रियों की सुरक्षा पुख्ता बनाई जाएगी। 

आगामी माह में कई पर्यटन गतिविधियां होंगी
पर्यटन निदेशक जम्मू ओम प्रकाश भगत ने बताया कि पर्यटन निदेशालय की ओर से जुलाई, अगस्त और सितंबर माह में कई पर्यटन गतिविधियां की जाएंगी। इसमें पत्नीटाप में समर फेस्टिवल, ज्यौड़ियां वाली माता में ट्रैकिंग, गुलाबगढ़ गोंपा में पाडर फेस्टिवल, गौरी कुंड से मोदलोत (जुलाई 2019), रंजीत सागर झील बसोहली में वाटर स्पोर्ट्स फेस्टिवल, चिनैनी से डुडू तक साइकिल रैली, पाडर में मचैल यात्रा, डुडू से कैलाश कुंड तक ट्रैकिंग, भद्रवाह और डुडू (अगस्त 2019) में कैलाश यात्रा, मेला पट, राजोरी फेस्टिवल, वर्ल्ड टूरिज्म डे, उर्स, शाहदरा शरीफ, राजोरी, उर्स, नवरात्र फेस्टिवल, कटड़ा/जम्मू (सितंबर 2019) शामिल हैं। वर्ष 2018 में जम्मू संभाग में 160.469 लाख पर्यटक पहुंचे, जबकि 2019 में मई तक 55.46 लाख पर्यटक पहुंच चुके थे।  
विज्ञापन

Recommended

amarnath ki yatra amarnath yatra 2019 amarnath yatra news अमरनाथ यात्रा 2019 अमरनाथ यात्रा दर्शन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Recommended Videos

Related

Next
Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।