शहर चुनें

अपना शहर चुनें

Top Cities
States

उत्तर प्रदेश

दिल्ली

उत्तराखंड

हिमाचल प्रदेश

जम्मू और कश्मीर

पंजाब

हरियाणा

विज्ञापन

बनी-भद्रवाह के बीच स्नो क्लीयरेंस का काम पूरा

जम्मू और कश्मीर ब्यूरो Updated Sun, 26 May 2019 01:35 AM IST
कठुआ। बनी और भद्रवाह के बीच सफर करने वाले लोगों के लिए खुशखबरी है। ग्रेफ की ओर से बनी भद्रवाह मार्ग से बर्फ हटाने का काम पूरा कर लिया गया है। जनवरी माह के पहले सप्ताह से बंद हुए बनी-भद्रवाह मार्ग को इस बार बहाल होने में लगभग पांच महीने लग गए हैं। हालांकि ग्रेफ ने एहतियातन एडवाइजरी जारी कर लोगों को इस मार्ग पर ट्रायल पूरा होने तक सफर नहीं करने की हिदायत जारी की है। ग्रेफ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि बर्फ हटाने का काम पूरा कर लिया गया है, लेकिन आधिकारिक जांच के बाद ही इस मार्ग पर वाहनों को चलने की अनुमति दी जाएगी। इसके लिए आने वाले एक-दो दिन के भीतर ग्रेफ की टीम भद्रवाह से बनी तक पूरे रूट का ट्रायल करेगी।
विज्ञापन
इस साल बर्फबारी का सीजन अप्रैल महीने तक जारी रहने के चलते बर्फ हटाने के काम में पहले ही देरी हो चुकी थी। काम शुरू होने के बाद फिर हुई बर्फबारी और कई इलाकों में दस से बारह फुट तक जमा बर्फ ने भी ग्रेफ की मशीनों को चुनौती दी। इसी वजह से अप्रैल माह के अंत तक बर्फ हटाने का काम पूरा नहीं हो सका। बनी और भद्रवाह दोनों ओर से लगी ग्रेफ की पांच मशीनों ने काम को अंतिम चरण में पहुंचा दिया जिसके बाद उम्मीद जताई जा रही थी कि बीस मई तक मार्ग खुल जाएगा। एक बार फिर भद्रवाह में खराब माहौल के चलते काम बंद हो गया। ग्रेफ की टीमों ने 22 मई को फिर काम शुरू किया और शनिवार को बर्फ हटाने का काम पूरा कर दिया गया।

शुरू हुआ सड़क विस्तारीकरण कार्य
ग्रेफ की ओर से बनी और भद्रवाह दोनों ओर से सड़क विस्तारीकरण का कार्य भी तेजी से शुरू कर दिया गया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार भद्रवाह से छत्रगलां तक जहां विभिन्न फेज में काम जारी है। वहीं बनी की ओर से भी काम में तेजी लाने की कोशिश की जा रही है। फिल्हाल सरथल से छत्रगलां और सरथल से लोआंग के बीच एक बड़े इलाके में सड़क विस्तारीकरण के लिए फारेस्ट क्लीयरेंस मिलने का इंतजार किया जा रहा है।

पर्यटकों से गुलजार होगा सरथल
बनी और भद्रवाह के बीच सरथल की हसीन वादियां और यहां के चरागाह विभिन्न इलाकों से आने वाले पर्यटकों के लिए बेहतरीन स्थल है। बीते कुछ वर्षों तक लोगों को जहां सुविधाओं का अभाव खलता रहा है वहीं हाल के वर्षों में टीआरसी समेत आसपास में रहने, खाने और ठहरने की अच्छी व्यवस्था के चलते अब पर्यटक बड़ी संख्या में पहुंचते हैं। यह पर्यटन स्थल न सिर्फ कठुआ जिला बल्कि डोडा जिला के लोगों को भी बेहद पसंद है। यही वजह है कि दोनों ओर से पर्यटक इस ओर पहुंचते हैं। पंजाब से आने वाले पर्यटकों की संख्या भी हाल के वर्षों में बढ़ी है। अपने निजी वाहनों से आने के अतिरिक्त सरथल तक आने के लिए सड़क खुलने के बाद डेली सर्विस भी शुरू होने जा रही है।
विज्ञापन

Recommended

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Recommended Videos

Next
Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।