शहर चुनें

अपना शहर चुनें

Top Cities
States

उत्तर प्रदेश

दिल्ली

उत्तराखंड

हिमाचल प्रदेश

जम्मू और कश्मीर

पंजाब

हरियाणा

विज्ञापन

यूआईडी सिस्टम सुरक्षित और आतंकवादियों को रोकने में सक्षम: यूआईडीएआई सीईओ

amarujala.com- Presented by: जया पाण्डेय Updated Sun, 07 May 2017 09:52 AM IST
आधार कार्ड
नकली पहचान से आधार कार्ड पाने के बाद डेटा लीक करने से सुरक्षा का खतरा हमेशा बना रहता है। भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) के सीईओ अजय भूषण पाण्डेय ने इस बाबत कहा कि यूआईडी सिस्टम पूरी तरह से सुरक्षित हैं और आतंकवादियों, मनी लॉन्डर्स को रोकने में सक्षम है।
विज्ञापन
नकली आधार आईडी का इस्तेमाल नकली राशन या वोटर आईकार्ड के मुकाबले अपराधियों के लिए अधिक खतरनाक साबित होगा क्योंकि बायोमेट्रिक डेटा एक व्यक्ति को अधिक निश्चितता के साथ पहचान सकती है। पांडे ने बताया कि अगर किसी व्यक्ति को फर्जी पहचान के साथ आधार मिला है, तो वह अपनी पूरी जिंदगी उस फर्जी पहचान के साथ फंस जाएगा।।

अगर कोई शख्स कोई अपराध या आतंकवाद फैलाने की योजना बना रहा है और आधार कार्ड के इस्तेमाल से बैंक खाता खोलना चाहता है तो अधिकारियों को उसे ट्रैक करना ज्यादा आसान होता है। 

कुछ सरकारी एजेंसियों के साथ कथित गोपनीयता भंग पर पांडे ने तर्क दिया कि उनकी वेबसाइटों पर आधार से जुड़ी जानकारी प्रदर्शित करने का मतलब यह नहीं है कि बॉयोमैट्रिक्स से समझौता कर लिया गया है। उन्होंने कहा, "यह कहना है कि आधार का उल्लंघन हुआ है या गोपनीयता खतरे में है, गलत है इसके अलावा ये भ्रामक और गैर जिम्मेदाराना भी है।"

Spotlight

Most Read

Related Videos

विज्ञापन
Next
Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।