शहर चुनें

अपना शहर चुनें

Top Cities
States

उत्तर प्रदेश

दिल्ली

उत्तराखंड

हिमाचल प्रदेश

जम्मू और कश्मीर

पंजाब

हरियाणा

जामिया विवाद पर प्रियंका का धरना, कहा-सरकार ने देश की आत्मा पर हमला किया

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Updated Mon, 16 Dec 2019 06:59 PM IST
विज्ञापन
सांकेतिक धरने पर बैठीं प्रियंका गांधी - फोटो : ANI
जामिया मिल्लिया इस्लामिया और अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में छात्रों और पुलिस के बीच विवाद का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा सोमवार को छात्रों से मारपीट के विरोध में इंडिया गेट के सामने सड़क पर सांकेतिक धरने पर बैठीं। 
विज्ञापन
 

दो घंटे तक सांकेतिक धरने पर बैठीं प्रियंका गांधी ने केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा, 'देश गुंडों की जागीर नहीं है। नौजवान देश की आत्मा है। देश में लोकतंत्र है तानाशाही नहीं है। हम लोकतंत्र के खिलाफ लड़ेंगे।' 

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा, 'केंद्र सरकार ने संविधान को नष्ट कर दिया है। यह देश की आत्मा पर हमला है, युवा देश की आत्मा है। विरोध उनका अधिकार है।' प्रियंका ने कहा, 'मैं भी मां हूं। आप लाइब्रेरी में घुसते हैं, उन्हें बाहर निकालकर पीटते हैं। यह अत्याचार है।'
 

प्रियंका गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भी हमला किया। उन्होंने पूछा, 'महिलाओं पर हमले, अर्थव्यवस्था, बेरोजगारी और छात्रों के साथ की गई पिटाई जैसे मुद्दों पर पीएम मोदी चुप क्यों हैं?'  उन्होंने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून भारत के संविधान के खिलाफ है। यह हमारे संविधान को नष्ट कर देगा। 

प्रियंका के साथ कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद, केसी वेणुगोपाल, एके एंटनी, पीएल पुनिया, अहमद पटेल और अन्य नेता धरने पर बैठे।  इससे पहले प्रियंका गांधी ने सरकार को निशाने पर लेते हुए कहा था कि सरकार ने संविधान और छात्रों पर हमला किया है। उन्होंने (पुलिस) ने विश्वविद्यालय में प्रवेश कर छात्रों पर हमला किया। हम संविधान के लिए लड़ेंगे, हम इस सरकार के खिलाफ लड़ेंगे।
 
कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने इस संबंध में जानकारी दी। उन्होंने कहा, 'यह सरकार देश के युवाओं और छात्रों के अधिकारों पर हमला कर रही है। इस वजह से प्रियंका गांधी वाड्रा अन्य कांग्रेस नेताओं के साथ इंडिया गेट पर शाम चार बजे से दो घंटे के लिए सांकेतिक धरने पर बैठेंगी।'
 
विज्ञापन

Recommended

jamia milia islamia amit shah citizenship amendment act protestors north east assam west bengal delhi police violence aligarh muslim university maulana azad university जामिया मिलिया इस्लामिया अमित शाह नागरिकता संशोधन अधिनियम प्रदर्शनकारी प्रदर्शन पूर्वोत्तर पश्चिम बंगाल असम दिल्ली jamia protest priyanka gandhi congress
विज्ञापन

Spotlight

Recommended Videos

Most Read

Next
Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।