शहर चुनें

अपना शहर चुनें

Top Cities
States

उत्तर प्रदेश

दिल्ली

उत्तराखंड

हिमाचल प्रदेश

जम्मू और कश्मीर

पंजाब

हरियाणा

विज्ञापन

अक्तूबर से पाक सीमा पर नई युद्ध रणनीति अपनाएगी सेना, तैनात होंगे इंटीग्रेटेड बैटल ग्रुप

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Updated Wed, 19 Jun 2019 07:20 PM IST
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने पिछले सप्ताह सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत और कमांडरों के साथ बैठक की थी - फोटो : एएनआई
युद्ध के दौरान तेज हमले करने की योग्यता को और मजबूत करने के लिए भारतीय सेना पाकिस्तान सीमा पर अक्तूबर से नई घातक युद्ध रणनीति अपनाने जा रही है। भारतीय सेना की योजना पहले पाकिस्तान सीमा के पास कुछ इंटीग्रेटेड बैटल ग्रुप तैनात करने की है। इसके बाद इन्हें चीन सीमा पर भी लगाया जाएगा। 
विज्ञापन
सेना के सूत्रों का कहना है, 'हमने पूर्वी कमांड के अंतर्गत इस खास युद्धक रणनीति इंटीग्रेटेड बैटल ग्रुप्स का अभ्यास किया है। युद्धक फॉर्मेशन टीम और टॉप कमांडरों ने इंटीग्रेटेड बैटल ग्रुप्स के अभ्यास को लेकर सकारात्मक प्रतिक्रिया दी है और इसे बेहतरीन बताया है। इस वजह से हम इस साल के अंत यानी अक्तूबर तक पाकिस्तानी सीमा के पास ऐसे दो से तीन इंटीग्रेटेड बैटल ग्रुप्स बनाने की तैयारी कर रहे हैं।'

सेना के सूत्रों ने बताया कि इंटीग्रेटेड बैटल ग्रुप्स के अभ्यास और उसके फीडबैक को लेकर पिछले हफ्ते विस्तार से चर्चा हुई थी। आर्मी हेडक्वार्टर में हुई इस बैठक में सात आर्मी कमांडरों ने भाग लिया था। इस बैठक में कमांडर-इन-चीफ को ये निर्देश दिए गए थे कि वो अपने-अपने इलाकों में इंटीग्रेटेड बैटल ग्रुप्स का निर्माण कराएं। पहले तीन इंटीग्रेटेड बैटल ग्रुप्स पूर्वी कमांड की फॉर्मेशन की तर्ज पर बनाए जाएंगे। 

इंटीग्रेटेड बैटल ग्रुप्स के सेना में शामिल होने के बाद सेना की ताकत और बढ़ जाएगी। इंटीग्रेटेड बैटल ग्रुप्स सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत की उस खास रणनीति का हिस्सा है, जिसमें वो सेना को ज्यादा प्रभावशाली और खतरनाक बनाना चाहते हैं।
विज्ञापन

Recommended

indian army war situation battle formations pakistan border integrated battle groups इंटीग्रेटेड बैटल ग्रुप भारतीय सेना

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Recommended Videos

Related

Next
Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।