नाबालिग से दुष्कर्म के दोषी को 10 साल की कैद

Rohtak Bureau Updated Sat, 10 Feb 2018 02:25 AM IST
अपहरण कर नाबालिग से किया दुष्कर्म, मिली 10 साल की कैद
- सोनीपत के मुंडलाना गांव का रहने वाला है मनोज

: दो साल पहले कलानौर थाने में किया गया था केस दर्ज
: एडीजे सोनिका गोयल की अदालत ने सुनाया फैसला

अमर उजाला ब्यूरो
रोहतक।
जिला अदालत में करीब दो साल से चल रहे दुष्कर्म के मामले में सोनीपत जिले के गांव मुंडलाना गांव के युवक मनोज कुमार को 10 साल कैद व 19 हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाई है। जुर्माना न भरने पर एडीजे सोनिका गोयल की अदालत ने अतिरिक्त सजा का प्रावधान किया गया है।
अभियोजन के अनुसार मार्च 2016 को कलानौर निवासी एक व्यक्ति ने शिकायत दी कि उसकी बहन अपनी 17 वर्षीय बेटी के साथ खाना खाकर सो गई। रात को जब उसकी बहन पेशाब करने के लिए उठी तो बेटी गायब मिली। उसने परिजनों को अवगत कराया। कई जगह तलाश किया, लेकिन जब सुराग नहीं लगा तो अज्ञात के खिलाफ अपहरण का केस दर्ज किया गया। इसी बीच जांच पड़ताल के बाद 13 मार्च को पुलिस ने लड़की को बरामद कर लिया। काउंसलिंग के बाद बोर्ड से मेडिकल करवाकर अदालत में मजिस्ट्रेट के सामने बयान दर्ज करवाए गए। इसके बाद पुलिस ने मुंडलाना गांव निवासी मनोज सहित तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। तभी से जिला अदालत में सुनवाई चल रही थी। एडीजे सोनिका गोयल की अदालत ने बुधवार को मनोज को दोषी करार दिया था। जबकि साक्ष्य के अभाव में एक आरोपी को बरी कर दिया। तीसरे के खिलाफ जुवेनाइल कोर्ट में केस चला गया था। शुक्रवार को अदालत ने मनोज कुमार को आईपीसी की धारा 363 के तहत 3 साल की कैद, 2 हजार रुपये जुर्माना, जुर्माना न भरने पर 1 माह की अतिरिक्त सजा, 366 के तहत 7 साल की कैद व 5 हजार रुपये जुर्माना। जुर्माना न भरने पर 3 माह की अतिरिक्त सजा, 376 के तहत 10 साल की कैद व 10 हजार रुपये जुर्माना, न भरने पर 6 माह की अतिरिक्त कैद और 506 के तहत 2 साल की कैद व 2 हजार रुपये जुर्माना और जुर्माना न भरने पर 1 माह की अतिरिक्त सजा का प्रावधान किया गया है। सभी सजा एक साथ चलेंगी।

Most Popular

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।