शहर चुनें

अपना शहर चुनें

Top Cities
States

उत्तर प्रदेश

दिल्ली

उत्तराखंड

हिमाचल प्रदेश

जम्मू और कश्मीर

पंजाब

हरियाणा

विज्ञापन

कर्ज में डूबी एयर इंडिया को वित्त वर्ष 2019-20 में मुनाफे की उम्मीद

बिजनेस डेस्क, अमर उजाला Updated Mon, 16 Sep 2019 09:40 AM IST
Air India

खास बातें

  • एयर इंडिया को हो सकता है 800 करोड़ रुपये तक का परिचालन मुनाफा
  • 2018-19 में हुआ था 4,600 करोड़ रुपये का नुकसान
  • एयर इंडिया के कुछ वरिष्ठ अधिकारियों ने दी जानकारी
तेल की ऊंची कीमतों और विदेशी विनियम हानि के कारण एयर इंडिया को पिछले वित्त वर्ष यानी 2018-19 में लगभग 4,600 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ था। हालांकि कर्ज में डूबी सरकारी कंपनी को 2019-20 में परिचालन मुनाफा होने की उम्मीद है। एयर इंडिया के कुछ वरिष्ठ अधिकारियों ने यह जानकारी दी।
विज्ञापन
उन्होंने कहा कि 2018-19 के दौरान एयर इंडिया को कुल 8,400 करोड़ रुपये का घाटा हुआ। वहीं कुल राजस्व बढ़कर लगभग 26,400 करोड़ रुपये के स्तर पर पहुंच गया। एक अन्य अधिकारी ने कहा कि अगर तेल की कीमतें ज्यादा नहीं ब़ती हैं और विदेशी विनिमय दर मे ज्यादा उतार-चढ़ाव नहीं रहता है तो 2019-20 में विमानन कंपनी को 700-800 करोड़ रुपये का परिचालन मुनाफा होने का अनुमान है।

हालांकि, अधिकारी ने कहा कि भारतीय विमानन कंपनियों के लिए पाकिस्तान का हवाई क्षेत्र बंद होने से एयर इंडिया को जून में समाप्त तिमाही के दौरान 175 करोड़ से 200 करोड़ रुपये के बीच परिचालन घाटा हुआ है। इससे कंपनी को रोजाना तीन से चार करोड़ रुपये का नुकसान हुआ।

बालाकोट हमले के बाद पाकिस्तान का हवाई क्षेत्र बंद होने से  एयर इंडिया को चार महीने के दौरान लगभग 400 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था। अधिकारी ने कहा कि एयर इंडिया के लिए लोड फैक्टर और प्राप्तियों में सुधार हो रहा है। कंपनी वर्तमान में 41 अंतरराष्ट्रीय और 72 घरेलू स्थलों के लिए उड़ान का परिचालन करती है। 

उन्होंने कहा कि स्थितियों में सुधार का अनुमान है, क्योंकि आने वाले महीनों में ज्यादा बड़े आकार के विमान मिल जाएंगे। रखरखाव के चलते एयर इंडिया के कई बड़े आकार वाले एयरक्राफ्ट खड़े हो गए हैं और उनमें से ज्यादातर बेड़े में फिर से शामिल किए जाने की प्रक्रिया में हैं। एयर इंडिया को 27 सितंबर से टोरंटो और नवंबर में नैरोबी के लिए अपनी उड़ान शुरू करनी है। कंपनी पर कुल 58,000  करोड़ रुपये का कर्ज है और कर्ज के एवज में ब्याज के रूप उसे सालाना लगभग 4,000 करोड़ रुपये का भुगतान करना पड़ रहा है।
विज्ञापन

Recommended

air india

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Recommended Videos

Next
Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।