शहर चुनें

अपना शहर चुनें

Top Cities
States

उत्तर प्रदेश

दिल्ली

उत्तराखंड

हिमाचल प्रदेश

जम्मू और कश्मीर

पंजाब

हरियाणा

विज्ञापन

जल्द बदलने वाली है सरकारी कर्मचारियों की रिटायरमेंट उम्र, मोदी सरकार कर रही तैयारी

बिजनेस डेस्क, अमर उजाला Updated Sat, 21 Sep 2019 01:11 PM IST
रिटायरमेंट - फोटो : प्रतीकात्मक तस्वीर
भारत में जल्द ही सरकारी कर्मचारियों की रिटायरमेंट उम्र बदल सकती है। केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने इसकी तैयारी शुरू कर दी है। दो तरीकों से सेवानिवृत्ति की आयु तय हो सकती है। 
  • पहला तरीका - कर्मचारी ने अगर 33 साल की सेवा पूरी कर ली हो।
  • दूसरा तरीका - कर्मचारी की आयु 60 साल हो गई हो।

केंद्र सरकार का तर्क है कि 33 साल की सेवा या 60 साल की आयु, जो भी पहले आए, इसके मुताबिक सेवानिवृत्ति होने से सरकार ही नहीं, बल्कि दूसरे कर्मियों को भी फायदा होगा। 

सातवें वेतन आयोग में भी हुआ था जिक्र

रिटायरमेंट उम्र बदल का जिक्र सातवें वेतन आयोग में भी किया गया है। मामले में डीओपीटी सूत्रों का कहना है कि इस प्रपोजल पर काम शुरू हो चुका है। अगर सेवानिवृत्ति की इस योजना को लागू किया जाता है, तो इससे निम्न फायदे होंगे-
  • बैकलॉग की समस्या दूर हो जाएगी। 
  • पदोन्नति के नए अवसर पैदा होंगे तो नई जॉब की राह भी प्रशस्त होगी।
  • जिन कर्मियों को समय पर प्रमोशन न मिलने की शिकायत रहती थी, वह भी दूर हो सकेगी। 

सुरक्षा बलों पर पड़ेगा असर

सरकार के इस फैसले का सबसे ज्यादा असर सुरक्षा बलों पर पड़ेगा। ऐसा इसलिए क्योंकि सैन्य एवं दूसरे सुरक्षा बलों में औसतन 22 साल के आसपास ज्वाइनिंग हो जाती है, इसलिए इनकी 33 साल की सर्विस 55 साल में ही पूरी हो जाएगी।

कई चरणों में लागू होगी योजना

इस योजना को कई चरणों में लागू किया जाएगा। इसके वित्तीय प्रावधानों को लेकर भी रिपोर्ट बनाई जा रही है और वित्त मंत्रालय की मंजूरी मिलने के बाद अगले वित्तीय वर्ष से सेवानिवृत्ति के नए नियम क्रियान्वित कर दिए जाएंगे। योजना में आईएएस, आईपीएस से लेकर केंद्र सरकार की सभी श्रेणी की नौकरियां शामिल हैं।

पंजाब के विशेषज्ञ डॉक्टर के लिए नया नियम

पंजाब में विशेषज्ञ डॉक्टर अब 60 साल की उम्र में सेवानिवृत्त होने के बाद भी काम कर सकेंगे। पंजाब सरकार ने ट्वीट कर कहा कि विशेषज्ञ डॉक्टर सेवानिवृत्त होने के बाद पांच सालों तक अपनी सेवाएं दे सकेंगे। इस संदर्भ में पंजाब के स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू ने कहा कि विशेषज्ञ डॉक्टर अपनी सेवानिवृत्ति के बाद स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग में सेवाएं दे सकते हैं।
विज्ञापन

अलग-अलग है रिटायरमेंट उम्र

पश्चिम बंगाल में मेडिकल टीचर के लिए 65 साल, डॉक्टर की 62 साल और दूसरे पदों के लिए 60 साल की सेवानिवृत्ति आयु तय की गई है। 

इन राज्यों में 60 साल है रिटायरमेंट उम्र

सभी पदों के लिए आंध्र प्रदेश, त्रिपुरा, कर्नाटक, असम, बिहार, मेघालय, मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, नागालैंड, गुजरात, उत्तराखंड, उत्तरप्रदेश और सिक्किम में 60 साल की आयु में रिटायमेंट होती है।

इन राज्यों में 58 साल है रिटायरमेंट उम्र

तेलंगाना, तमिलनाडु, गोवा, अरुणाचल प्रदेश, महाराष्ट्र, जम्मू कश्मीर, मिजोरम, मणिपुर, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश और उड़ीसा में 58 साल की आयु में कर्मचारी या अधिकारी रिटायर होते हैं। 

इन राज्यों में 56 साल है रिटायरमेंट उम्र

झारखंड और केरल में सेवानिवृत्ति आयु 56 साल रखी गई थी। 

हालांकि कई राज्यों में सेवानिवृत्ति आयु घटती बढ़ती रही है। 

विभिन्न पदों के लिए अलग-अलग सेवानिवृत्ति आयु

इसके अलावा विभिन्न पदों के लिए अलग-अलग सेवानिवृत्ति आयु का भी प्रावधान रखा गया है। जैसे हरियाणा में तकनीकी कर्मियों की सेवानिवृत्ति आयु 60 साल है। 

भारतीय सेना में सेवानिवृत्ति आयु 

भारतीय सेना में जनरल की सेवानिवृत्ति आयु 62 साल  है, लेफ्टिनेंट जनरल की 60 साल, मेजर जनरल की 58 साल, ब्रिगेडियर की 56 साल, कर्नल और सूबेदार मेजर की 54 साल, सूबेदार और नायब सूबेदार की 52 साल, हवलदार और नायक की 49 साल, सिपाही जीपी (वाई) की 48 साल और सिपाही जीपी (एक्स) की सेवानिवृत्ति आयु 42 साल है। 

इंडियन नेवी में सेवानिवृत्ति आयु 

इंडियन नेवी में एडमिरल की सेवानिवृत्ति आयु 62 साल है, वाइस एडमिरल की 60 साल, रीयर एडमिरल की 58 साल, कोमोडोर कैप्टन, एजुकेशन और एमसीपीओ 1,2 की 57 साल, कोमोडोर /कैप्टन की 56 साल, कमांडर की 54 साल और लेफ्टिनेंट कमांडर एवं इसके नीचे और सीपीओ एवं इसके नीचे रैंक वाले सेलर की सेवानिवृत्ति आयु 52 साल है। 

इंडियन एयरफोर्स में सेवानिवृत्ति आयु

इंडियन एयरफोर्स में एयरचीफ मार्शल की सेवानिवृत्ति आयु 62 साल है, एयर मार्शल की 60 साल, एयर वाइस मार्शल की 58 साल, एयर कोमोडोर-फ्लाइंग ब्रांच की 56 साल और ग्रुप कैप्टन (सेलेक्ट) फ्लाइंग ब्रांच की सेवानिवृत्ति आयु 54 साल है। 

रिटायरमेंट की उम्र हो एक - दिल्ली उच्च न्यायालय

बता दें कि इसी साल 31 जनवरी को दिल्ली उच्च न्यायालय ने एक सेवानिवृत्त अधिकारी देव शर्मा की याचिका पर सुनवाई करते हुए यह फैसला सुनाया था। जिसमें कहा गया था कि गृह मंत्रालय चार माह में तय करे कि सभी केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों में सभी रैंकों में सेवानिवृत्ति की उम्र समान हो। अभी तक केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल 'सीआरपीएफ', भारत-तिब्बत सीमा पुलिस 'आईटीबीपी', सीमा सुरक्षा बल 'बीएसएफ' तथा सशस्त्र सीमा बल 'एसएसबी' में कमांडेंट से नीचे के पदों पर जवान 57 साल की उम्र में रिटायर हो जाते हैं।

डीआईजी और उससे ऊपर के रैंक के अधिकारियों की रिटायरमेंट की उम्र 60 वर्ष होती है। केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल और असम राइफल्स में सभी रैंक 60 वर्ष की उम्र पूरी करके रिटायर होते हैं।
विज्ञापन

Recommended

narendra modi retirement आपके लिए aapke liye weekend specials

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Recommended Videos

Next
Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।