शहर चुनें

अपना शहर चुनें

Top Cities
States

उत्तर प्रदेश

दिल्ली

उत्तराखंड

हिमाचल प्रदेश

जम्मू और कश्मीर

पंजाब

हरियाणा

विज्ञापन

एरिया 51 क्यों है दुनिया की सबसे रहस्यमयी जगह, क्या सच में वहां बंधक बनाकर रखे गए हैं एलियंस?

फीचर डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Updated Fri, 20 Sep 2019 07:34 PM IST
1 of 8
एरिया 51 - फोटो : Flickr/Shutterstock
एरिया 51 का नाम तो आपने सुना होगा। यह अमेरिका के नेवादा में स्थित दुनिया की सबसे रहस्यमयी जगह मानी जाती है। फिलहाल यह जगह पूरे सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय बनी हुई है, क्योंकि 'इमर्सिव एंटरटेनमेंट' नाम की एक कंपनी ने एरिया 51 पर छापा मारने की घोषणा की है, इस आस में कि वहां उसे एलियंस यानी परग्रही देखने को मिलेंगे। कंपनी ने यह भी घोषणा की है कि इस पूरे घटनाक्रम का सोशल मीडिया पर लाइव प्रसारण किया जाएगा। 
विज्ञापन

2 of 8
एलियन - फोटो : Pixabay
कंपनी का दावा है कि एलियंस या परग्रही एरिया 51 में बंधक बनाकर रखे गए हैं, उन्हें आजाद कराया जाएगा। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस क्षेत्र में घुसपैठ करने के लिए लोग इकट्ठा भी होने लगे हैं। लोगों का कहना है कि वो एलियन देखकर ही जाएंगे। अब ऐसे में सवाल उठता है कि क्या सच में एरिया 51 में एलियंस को बंधक बनाकर रखा गया है? अगर नहीं तो ये जगह इतनी रहस्यमयी क्यों है और बाहरी लोगों को इस जगह के बारे में कोई जानकारी क्यों नहीं है? 

3 of 8
एरिया 51 - फोटो : Social media
रिपोर्ट्स के मुताबिक, एरिया 51 में अमेरिका का एयर फोर्स बेस है, लेकिन इसके अंदर क्या होता है, यह पूरी तरह से गुप्त रखा जाता है। यहां कई जगहों पर चेतावनी भरे बोर्ड लगे हुए हैं, हर वक्त सीसीटीवी कैमरे से निगरानी होती है। इसके अलावा सशस्त्र गार्ड पूरे इलाके की सुरक्षा में तैनात रहते हैं। यहां तक कि एरिया 51 के ऊपर से विमानों की उड़ान भी प्रतिबंधित है। 

4 of 8
एरिया 51 - फोटो : Pixabay
बीबीसी के मुताबिक, एरिया 51 को अमेरिका और सोवियत संघ के बीच शीत युद्ध के दौरान विमान के परीक्षण और विकास के लिए बनाया गया था। हालांकि यह साल 1955 में खोला गया था, लेकिन कई सालों तक इस जगह के बारे में लोगों को पता ही नहीं था। पहली बार इसके अस्तित्व को साल 2013 में सीआईए ने आधिकारिक तौर पर स्वीकार किया था। इसके चार महीने बाद तत्कालीन अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने भी सार्वजनिक तौर पर एरिया 51 का जिक्र किया था। 

5 of 8
एरिया 51 - फोटो : Social media
ऐसा माना जाता है कि अमेरिकी सेना अत्याधुनिक विमानों को विकसित करने के लिए एरिया 51 का उपयोग करती है। माना जाता है कि लगभग 1,500 लोग वहां काम करते हैं, जिसमें से कई लोग लास वेगास से चार्टर्ड विमान के जरिए आते हैं। 

6 of 8
एलियन - फोटो : Pixabay
एरिया 51 के आसपास जिस तरह की गोपनीयता है, उससे मन में कई तरह के सवाल पैदा होते हैं। ऐसा दावा किया जाता है कि साल 1947 में न्यू मैक्सिको के रोसवेल में एलियन का एक अंतरिक्ष यान दुर्घटनाग्रस्त हो गया था, उस यान को और उसके पायलटों के शवों को यहां रखा गया है। हालांकि अमेरिकी सरकार का कहना है कि वो कोई एलियन का विमान नहीं था बल्कि एक वेदर बैलून था, जो दुर्घटनाग्रस्त हुआ था। 

7 of 8
यूएफओ - फोटो : Pixabay
वहीं कई लोगों का यह भी दावा है कि एरिया 51 के ऊपर या आसपास कई बार यूएफओ को देखा गया है, जबकि कुछ लोगों का यह भी कहना है कि एलियंस ने उनका अपहरण कर लिया था और उनपर कई तरह के प्रयोग किए, फिर बाद में पृथ्वी पर वापस छोड़ दिया। 

8 of 8
एरिया 51 - फोटो : Pixabay
साल 1989 में रॉबर्ट लेजर नाम के एक व्यक्ति ने दावा किया था कि उसने एरिया 51 के अंदर एलियन तकनीक पर काम किया है। उसने दावा किया था कि उसने एलियंस की मेडिकल तस्वीरें भी देखी हैं। अब बात चाहे जो भी हो, लेकिन एरिया 51 की 'रहस्यमयी दुनिया' मन में बहुत सारे सवाल पैदा करती है, जिसका जवाब अब तक आधिकारिक तौर पर कोई नहीं दे सका है। 
विज्ञापन

Recommended Videos

Next
Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।