बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
TRY NOW

पोस्टमैन की हत्या में उम्रकैद

Rampur Updated Fri, 12 Oct 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

रामपुर। सात साल पूर्व पोस्टमैन की हत्या करने के मामले में अदालत ने एक ग्रामीण को उम्रकैद और 15 हजार रुपये जुर्माना अदा करने की सजा सुनाई है।
विज्ञापन

शाहबाद कोतवाली क्षेत्र के रुस्तमपुर गांव निवासी मोहन सिंह यादव शाहबाद में पोस्टमैन के पद पर तैनात था। आरोप हैकि गांव का ही हिस्ट्रीशीटर विजय पाल उससे रंजिश रखता था। आठ अगस्त को मोहन घर में सो रहा था। तब विजयपाल ने गोली मारकर उसकी हत्या कर दी। घटना की रिपोर्ट मृतक के पुत्र लखपत सिंह की ओर से शाहबाद थाने में दर्ज कराई थी। पुलिस ने मुकदमा दर्ज करने के बाद हत्या में प्रयुक्त तमंचा बरामद करते हुए आरोपी को भी गिरफ्तार कर लिया था। मामले की तफ्तीश करते हुए चार्जशीट कोर्ट में दाखिल की गई। कोर्ट में सुनवाई के बाद गुरुवार को फैसला सुनाया गया। सुनवाई के दौरान अभियोजन पक्ष की ओर से सहायक शासकीय अधिवक्ता दाबर अली ने दलील दी कि आरोपी ने सरेशाम मोहन सिंह को गोलियों से भून डाला और गवाहों ने घटना की पुष्टि भी की है। लिहाजा कड़ी सजा दी जाए,जबकि बचाव पक्ष के अधिवक्ता ने दलील कि घटना रात की है और घटना का कोई साक्षी नहीं है। दोनों पक्षों की दलील सुनने केबाद अपर जिला जज चतुर्थ चंद्रहास राम ने आरोपी विजय पाल को आजीवन कारावास और 15 हजार रुपये जुर्माना अदा करने की सजा सुनाई है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us