अंतर राज्यीय आशू गैंग के चार सदस्य गिरफ्तार

Rampur Updated Thu, 23 Aug 2012 12:00 PM IST
स्वार। अंतरराज्यीय आशू गैंग के चार सदस्यों को गिरफ्तार कर पुलिस ने दो चोरी की गाड़ियों समेत भारी मात्रा में असलहा बरामद किया है। गाड़िया राजस्थान से चुराई गई थीं।
बुधवार को कोतवाली पुलिस को सूचना मिली की आशू गैंग के सदस्य चोरी की गाड़ी बेचने के लिए क्षेत्र में घूम रहे हैं। कोतवाल डीसी शर्मा ने वरिष्ठ उपनिरीक्षक गिरीश राज को खरीददार बनाकर स्वार केलाखेड़ा मार्ग स्थित भगवंतनगर भेजा। बातचीत के बाद दो युवकों से साढ़े तीन लाख रुपये में गाड़ी का सौदा पट गया। तभी दूसरी बोलेरो से युवक केलाखेड़ा मार्ग की ओर से आ गये। पुलिस ने घेराबंदी कर गिरोह को दबोचना चाहा तो युवक फायरिंग करते हुए जंगल की ओर भाग खडे़ हुए। काफी मशक्कत के बाद पुलिस ने चार युवकों को अपने कब्जे में कर लिया। पूछताछ करने पर उन्हाेंने अंतरराज्यीय आशू गैंग के सदस्य होना स्वीकार किया। पूछतांछ में अपने नाम राजस्थान के जिला भरतपुर थाना सीकरी निवासी बलवंत सिंह पुत्र कश्मीर सिंह, मोहन सिंह उर्फ सुखविंदर सिंह पुत्र लक्ष्मण सिंह, जिला उधमसिंह नगर के सितारगंज, कुलदीप सिंह पुत्र सतपाल सिंह और रामपुर के मिलकखानम के गांव माचियागढ़ निवासी जसपाल पुत्र शमशेर सिंह बताया। पुलिस ने तलाशी लेने पर उनके पास से एक देसी बंदूक 12 बोर, एक देसी तमंचा 12 बोर व कारतूस, खाली खोखे बरामद कर गाड़ी को कब्जे में ले कोतवाली ले आयी। कोतवाल डीसी शर्मा ने बताया कि सभी गिरफ्तार सदस्य अलवर राजस्थान के आशू गैंग के सक्रिय सदस्य है। वाहनों की चोरी कर देश प्रदेश में बेचने का काम करते है। उन्होंने कई चोरी की गाड़ियां क्षेत्र में भी बेचना स्वीकार किया है। जिनकी तलाश जारी है। बरामद एक बोलेरो अलवर से चुराई गई थी। वाहन की जांच की जा रही है।

Spotlight

Related Videos

25 जून 2018: देश-दुनिया की सारी खबरें जानिए शाम 7 बजे

बेखौफ अपराधियों ने की वकील की हत्या समेत देश- दुनिया की तमाम खबरों को देखिए हर रोज शाम 7 बजे सिर्फ अमर उजाला टीवी पर

25 जून 2018

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen