ठेकेदारों के खिलाफ धरने पर बैठे बिजली कर्मी

Rampur Updated Tue, 14 Aug 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

रामपुर। ठेकेदारी प्रथा के चलते समस्याएं झेल रहे कर्मचारियों ने एक बार फिर विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया है। उन्होंने वेतन समय पर न मिलने और कर्मचारियों के शोषण होने पर विरोध जताया और अधीक्षण अभियंता (एसई) कार्यालय के सामने धरना दिया।
विज्ञापन

उत्तर प्रदेश बिजली मजदूर संगठन के प्रांतीय उपाध्यक्ष अब्दुल गफ्फार ने कहा कि बिजली के संविदा कर्मियों के साथ हमेशा से शोषण होता आया है। उन्हें वक्त पर वेतनमान नहीं मिलता है। उन्हें सुरक्षा के साधन मुहैय्या नहीं कराए जाते हैं। उनकी जिंदगी के बारे में कोई भी चिंतन नहीं किया जाता है। ऐसी जिंदगी जी रहे कर्मचारियों का हर दिन जोखिम भरा होता है। उन्होंने कहा कि विभाग भी ठेका देने से पहले इन बातों पर ध्यान नहीं देता है और कर्मचारियों की कमान गैर जिम्मेदार लोगों के हाथों में थमा दी जाती है। इसका असर आर्थिक रूप से परिवार भी पड़ता है। उन्होंने कहा कि अब यह नहीं सहा जाएगा। ठेकेदारी प्रथा को लेकर सुधार करना होगा नहीं तो आंदोलन और उग्र होगा। इस दौरान सरदार राजेंद्र सिंह व अन्य कर्मचारी उपस्थित थे।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us