विज्ञापन
विज्ञापन

रात भर जेल में रहने के बाद कांग्रेसी नेता रिहा

Rampur Updated Tue, 31 Jul 2012 12:00 PM IST
रामपुर। उच्च शिक्षा मंत्री का पुतला फूंकने के आरोप में जेल में भेजे गए कांग्रेसी नेताओं को सोमवार को राहत मिल गई। सिटी मजिस्ट्रेट ने उनकी जमानत याचिका मंजूर कर ली। दोनों नेताओं का चालान शांति भंग के आरोप में किया गया था। जेल से रिहा होने के बाद कांग्रेसी नेताओं ने दोनों को फूल मालाओं से लाद दिया।
विज्ञापन
विज्ञापन
डिग्री कालेज में शासन की घोषणा के बाद भी सीटें नहीं बढ़ पाई हैं, जिसकी वजह से एडमिशन नहीं मिल पा रहा है। सीट बढ़ाने की मांग कांग्रेसियों ने सीटें न बढ़ाए जाने के विरोध में उच्च शिक्षा मंत्री का पुतला फूंका था। उच्च शिक्षा मंत्रालय मुख्यमंत्री के पास ही होने की वजह से पुलिस ने उच्च शिक्षा मंत्री का पुतला फूंकने वालों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करते हुए युवा कांग्रेस जिलाध्यक्ष नोमान खां और शहर अध्यक्ष एजाज हुसैन को रविवार को गिरफ्तार कर लिया था। बाद में दोनों को जेल भेज दिया गया था। दोनों का चालान शांति भंग के आरोप में किया गया था। लिहाजा दोनों की जमानत अरजी सिटी मजिस्ट्रेट की कोर्ट में लगाई गई,जहां सिटी मजिस्ट्रेट जमानत पर रिहा करने के आदेश कर दिए। रिहाई का आदेश मिलने के बाद कांग्रेसी नेता जिला कारागार पहुंचे,जहां जेल में बंद दोनों नेताओं की रिहाई हुई।

Recommended

शनि जयंती (03 जून 2019, सोमवार) के अवसर पर शनि शिंगणापुर में शनि को प्रसन्न करने के लिए तेल अभिषेकम्
Astrology

शनि जयंती (03 जून 2019, सोमवार) के अवसर पर शनि शिंगणापुर में शनि को प्रसन्न करने के लिए तेल अभिषेकम्

कैसे होगा करियर, कैसा चलेगा व्यापार, किसे मिलेगी तरक्की और किसे मिलेगा प्यार ! जानिए विश्वप्रसिद्व ज्योतिषाचार्यो से
Astrology

कैसे होगा करियर, कैसा चलेगा व्यापार, किसे मिलेगी तरक्की और किसे मिलेगा प्यार ! जानिए विश्वप्रसिद्व ज्योतिषाचार्यो से

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

सूरत हादसे से शोक में डूबा बॉलीवुड, अमिताभ समेत इन हस्तियों ने जताया दुख

गुजरात के सूरत की चार मंजिला कोचिंग सेंटर में आग लग गई। आग लगने की वजह से 20 बच्चों की जान चली गई जबकी कई घायल हैं। इस घटना से बॉलीवुड में भी शोक की लहर है। अमिताभ से लेकर कई सितारों ने सोशल मीडिया पर इस हादसे पर शोक जताया।

25 मई 2019

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree