चाचा को गोली मारने में, भतीजे को कैद

Rampur Updated Tue, 31 Jul 2012 12:00 PM IST
रामपुर। गंज थाना क्षेत्र में चाचा को गोली मारने वाले युवक को कोर्ट ने पांच साल की कैद और पांच हजार रुपये जुर्माना अदा करने की सजा सुनाई है, जबकि साक्ष्य के अभाव में युवक के पिता को बरी कर दिया।
क्षेत्र के रहपुरा गांव निवासी अली रजा 28 अक्तूबर 06 की रात में लघुशंका के लिए उठा था। गेट पर उसका भतीजा खड़ा था, जिस पर उसने टोक दिया। टोकने से नाराज भतीजे अतीक ने अली रजा पर तमंचा निकालकर फायर झोंक दिया। गोली लगने से अली रजा घायल हो गया और फिर उसका इलाज कराया गया। घटना की रिपोर्ट जमील अहमद ने अतीक व शफीक के खिलाफ दर्ज कराई थी। पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज करने के बाद मामले की तफ्तीश करते हुए अतीक और शफीक के खिलाफ चार्जशीट कोर्ट में फाइल की थी। इस मामले की सुनवाई के बाद आज फैसला सुनाया। कोर्ट में सुनवाई के दौरान अभियोजन पक्ष की ओर से सहायक शासक ीय अधिवक्ता इरफान खां व अमित सक्सेना ने दलील दी कि आरोपियों ने मामूली सी बात पर जानलेवा हमला किया है। लिहाजा कड़ी सजा दी जाए, जबकि बचाव पक्ष के अधिवक्ता ने तर्क दिया कि घटना रात की है और इसमें कोई गवाह भी नहीं है। दोनों पक्षों की दलील सुनने के बाद एडीजे तृतीय पीके गुप्ता ने अतीक अहमद को दोषी मानते हुए पांच साल की कैद व पांच हजार रुपये जुर्माना अदा करने की सजा सुनाई है, जबकि साक्ष्य के अभाव में शफीक को बरी कर दिया।

Spotlight

Related Videos

ट्रेन से कहीं जाने की सोचने से भी पहले ये खबर जरूर देखें

हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, जम्मू-कश्मीर के कई इलाकों में बर्फबारी का असर दिल्ली-NCR समेत उत्तर भारत में दिखाई दिया।

24 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls