बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

सिपाहियों को बंधक बना रायफल छीनीं

Rampur Updated Fri, 20 Jul 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
शाहबाद। तीन पल्सर बाइकों पर सवार नौ हथियार बंद लोगों ने जाम खुलवाने पहुंचे सिपाहियों को बंधक बनाकर उनकी रायफल छीन लीं। काफी मिन्नत करने के बाद युवकों ने रायफल वापस की। सूचना पर पहुंची फोर्स को देख युवकों ने फायरिंग करनी शुरू कर दी। जवाब में पुलिस की ओर से भी फायरिंग हुई, लेकिन युवक भागने में सफल रहे।
विज्ञापन

हुआ यूं कि गुरुवार शाम तीन बाइक पर सवार हथियार बंद लोगों ने लक्खी बाग की रखवाली कर रहे जनपद बरेली थाना सिरोली क्षेत्र के गांव लीलोर निवासी अखिलेश को बुरी तरह से पीट डाला। बताया जाता है कि नशे में धुत बाइक सवार हथियार बंद लोगों ने बाद में राणा शुगर मिल पहुंचकर शाहबाद बिलारी मार्ग पर जाम लगा दिया। जाम लगाने में इन लोगों के 20-25 अन्य साथियों ने भी साथ दिया। जाम लगने की सूचना मिलने पर कोतवाली में तैनात कांस्टेबल रिंकू और निशांत जाम खुलवाने पहुंचे। जैसे ही यह दोनों सिपाही मौके पर पहुंचे तो हथियार बंद लोगों ने दोनों को बंधक बना लिया और पिटाई कर रायफल छीन लीं। कुछ देर बाद गश्त करने जा रहे दो और सिपाही मौके पर जा पहुंचे। इन लोगों ने इनकी भी रायफल छीन अपने पास बिठा लिया। हथियार बंद लोगों का तांडव देख चारों सिपाहियों ने काफी खुशामद की तो रायफलें वापस दे दीं। इस बीच किसी ने थाने फोन कर कोतवाली प्रभारी को सिपाहियों को बंधक बनाने की खबर दी तो कोतवाली प्रभारी भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस जीप को देखते ही जाम लगाने वालों ने फायरिंग करनी शुरू कर दी। जवाब में पुलिस ने भी फायरिंग की। दोनों तरफ से हुई फायरिंग के दौरान जाम लगाने वाले भागने में सफल हो गए।

इंस्पेक्टर राजीव यादव का कहना है कि बाग वाले की पिटाई की रिपोर्ट हमने दर्ज कर ली थी। बाइक सवार युवक बाग वाले के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराना चाहते थे, जो हमने नहीं लिखी। दबाव बनाने के लिए इन लोगों ने अपने 20-25 साथियों के साथ मार्ग जाम कर दिया। इस मामले में पंद्रह लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us