शिक्षक और किसान के घर में डाका

Rampur Updated Fri, 20 Jul 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

टांडा। सीकमपुर और चक गजरौला में डकैतों ने कहर बरपाया। शिक्षक और किसान के घर में धावा बोलकर चार लाख का माल लूट लिया। असलहे की दम पर परिजनों को बंधक बनाकर वारदात को अंजाम दिया। विरोध करने पर तमंचे की बट से पीटा भी। सीकमपुर थाने में डकैती की रिपोर्ट दर्ज कराई गई है।
विज्ञापन

सीकमपुर में रामस्वरूप का परिवार रहता है। बेटे नीरज सिंह और कुलभूषण शिक्षण कार्य करते है। बुधवार की रात दीवार फांदकर एक बदमाश घर में घुस आया और अंदर से कुंडी खोलकर अन्य साथियों को भी बुला लिया। सभी बदमाश ढाटा बांधे हुए थे। घर में घुसते ही बदमाशों ने परिजनों को असलहे की दम पर चुप करा दिया। बदमाश रामस्वरूप के घर से पांच तोले सोने के जेवर और सत्तर हजार रुपये लूट लिए। विरोध करने पर गृह स्वामी रामस्वरूप और उसकी पत्नी रामवती की तमंचे की बट से पिटाई कर दी। बदमाश सभी को कमरे में बंदकर फरार हो गए। महिला ने बताया कि सभी बदमाश औसत से अधिक लंबे और युवा थे।
इससे पहले बदमाशों ने करीब डेढ़ बजे किसान जगदीश पुत्र रामकुंवर के घर इसी पैटर्न पर धावा बोला। गृह स्वामी की पत्नी ओमवती और मेहमान छत पर सोये थे। बदमाशों ने व्यापारी के पुत्र धर्मपाल की पत्नी से कुंडल, नाक का फूल लूट लिया। इसके बाद सेफ खोलकर दो तोला सोना और आधा किलो चांदी के जेवर लूट लिए। इसी बीच सो रही 10 वर्षीय ननद सीमा ने चुपके से छत पर चढ़कर शोर मचा दिया। जिससे परिवार की आंख खुल गई। लेकिन बदमाश तमंचे लहराते हुए आराम से निकलने में कामयाब हो गये। थाने में सीकमपुर की घटना की रिपोर्ट दर्ज की गई है। एसओ विद्युत गोयल का कहना है कि पुलिस डकैतों की तलाश में लगी है, जल्द ही घटना का खुलासा कर दिया जाएगा।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
  • Downloads

Follow Us