आपत्तियों के भंवर में फंसी महायोजना

Rampur Updated Thu, 19 Jul 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

रामपुर। वर्ष 2021 तक के लिए तैयार की गई रामपुर विकास प्राधिकरण की महायोजना को लागू करने की राह मुश्किल भरी है। इसको लागू करने में तमाम अड़चनें सामने आ गई हैं। फिलहाल यह महायोजना आपत्तियों के भंवर में फंस गई है। इस योजना पर सवा सौ से भी ज्यादा आपत्तियां दर्ज की गई हैं। अब इनके निस्तारण के बाद ही इस योजना को शासन स्तर पर पारित किया जाएगा।
विज्ञापन

रामपुर को व्यवस्थित ढंग से बसाने के लिहाज से आरडीए ने रामपुर महायोजना तैयार की है। इस महायोजना के तहत वर्ष 2021 तक शहर को व्यवस्थित ढंग से बसाकर उसे सुंदर बनाने की योजना है। रामपुर विकास प्राधिकरण ने महायोजना का प्रारूप तैयार किया है। लेकिन, इस महायोजना की राह काफी मुश्किल भरी है। महायोजना को अमली जामा पहनाने के लिए रामपुर विकास प्राधिकरण ने शहर के लोगों की आपत्तियां दर्ज की हैं। आरडीए की इस महायोजना पर सवा सौ से ज्यादा आपत्तियां आई हैं। काम शुरू होने से पहले आपत्तियों का भी निस्तारण होना जरूरी है। महायोजना वर्ष 2021 के तहत जो आपत्तियां दाखिल की गई हैं, उसमें तमाम तरह की आपत्तियां हैं। मसलन, कहीं औद्योगिक क्षेत्र को व्यावसयिक क्षेत्र बनाए जाने, ग्रीन बेल्ट को आवासीय क्षेत्र में तब्दील करने जैसी तमाम आपत्तियां दर्ज कराई गई हैं। इन आपत्तियों के निस्तारण के लिए आरडीए ने कवायद शुरू कर दी है। उम्मीद जताई जा रही है आरडीए की इस महायोजना को पास कराने के लिए पहले आपत्तियों का निस्तारण होगा।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
  • Downloads

Follow Us