कांग्रेस नहीं चाहती जौहर यूनिवर्सिटी चले : आजम

Rampur Updated Wed, 18 Jul 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

रामपुर। नगर विकास मंत्री आजम खां ने कहा कि केंद्र की कांग्रेस सरकार नहीं चाहती कि जौहर यूनिवर्सिटी चले। केंद्र के दबाव में प्रदेश के गवर्नर जौहर यूनिवर्सिटी को अल्पसंख्यक संस्थान का दर्जा देने की फाइल पर दस्तख्त नहीं कर रहे हैं। गवर्नर चाहे फाइल पर दस्तख्त करें या नहीं करें, जौहर यूनिवर्सिटी चलेगी। जिला प्रशासन की ओर से यूनिवर्सिटी शुरू करने की रिपोर्ट शासन को भेज दी गई है। उच्च शिक्षा विभाग की ओर से एक-दो दिन के अंदर एनओसी जारी हो जाएगा।
विज्ञापन

सपा कार्यालय पर प्रेस कांफ्रेंस में आजम खां ने कहा कि जौहर यूनिवर्सिटी तो 2004 में शुरू हो गई होती। राज्य सरकार ने बिल पासकर गवर्नर के पास भेजा था। उस वक्त भी कांग्रेस के दबाव में तत्कालीन गवर्नर टी. राजेश्वर ने बिल पर हस्ताक्षर नहीं किए। कांग्रेस नहीं चाहती कि मुसलमान उच्च शिक्षा हासिल करें। बसपा सरकार ने यूनिवर्सिटी की राह में कम बाधाएं नहीं खड़ी की। इसके बाद जौहर कालेज आफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी शुरू करने में सफल रहे। उन्होंने कहा कि जौहर यूनिवर्सिटी में दाखिले शुरू हो गए हैं। बीटेक की कई ब्रांचों में दाखिला चल रहा है। यूनिवर्सिटी में इंजीनियरिंग में डिप्लोमा का कोर्स शुरू किया गया है। सिविल, इलेक्ट्रिकल और मेकेनिकल इंजीनियरिंग के डिप्लोमा कोर्सेज शुरू किए जा रहे हैं। इसके अलावा बीबीए, बीसीए, बीकॉम (आनर्स) होम साइंस में दाखिले शुरू हो चुके हैं। लाइब्रेरी साइंस और डिप्लोमा इन जर्नलिज्म का कोर्स शुरू किया जा रहा है। आजम खां ने कहा कि जौहर यूनिवर्सिटी का औपचारिक उद्घाटन ईद के बाद तीसरे या चौथे दिन हो जाएगा। सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव, मुख्यमंत्री अखिलेश यादव समेत कई हस्तियां उद्घाटन में शिरकत करेंगी। उसी दिन अस्पताल का शिलान्यास होगा। तीन साल पूरा होने के बाद मेडिकल कालेज शुरू किया जाएगा।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
  • Downloads

Follow Us