लापरवाही का नतीजा थी सलोनी की मौत

Rampur Updated Tue, 17 Jul 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

रामपुर। सलोनी की मौत वाकई लापरवाही की वजह से हुई थी। अगर वक्त रहते ध्यान दिया जाता तो सलोनी की जान बचाई जा सकती थी। इस बात का खुलासा खुद महिला कल्याण मंत्री अरुण कोरी ने किया है। सोमवार को राजकीय शिशु सदन पहुंची कोरी को सदन में काफी अनियमितताएं मिलीं। उन्होंने कहा कि इस मामले में रिपोर्ट दर्ज कराई जाएगी।
विज्ञापन

सलोनी की मौत का मामला महिला एवं बाल कल्याण मंत्रालय तक पहुंच गया है। आजम के निरीक्षण के चौबीस घंटे बाद महिला कल्याण राज्य मंत्री अरुण कोरी सोमवार को यहां पहुंची। उन्होंने राजक ीय शिशु सदन का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने बच्चों से बातचीत की साथ ही सहायक अधीक्षक से भी मामले की जानकारी ली। करीब दस मिनट के औपचारिक निरीक्षण के बाद उन्होंने घोषणा की कि सहायक अधीक्षक को सस्पेंड कर दिया गया है। साथ ही इस मामले में लापरवाही बरतने पर रिपोर्ट दर्ज भी कराई जाएगी। कहा कि जल्द ही सहायक अधीक्षक की कुर्सी पर दूसरे अधिकारी की तैनाती की जाएगी। साथ ही शिशु सदन को दूसरी जगह शिफ्ट कराया जाएगा। उन्होंने साफ किया कि किसी भी हाल में बच्चों के साथ अन्याय नहीं होने दिया जाएगा। सदन में कर्मियों की कमी को भी दूर किया जाएगा। इस मौके पर जिलाधिकारी अनिल ढींगरा, सीडीओ राजकुमार श्रीवास्तव, नगर मजिस्ट्रेट प्रीति जायसवाल, एसडीएम सदर मोहम्मद असद मौजूद रहे।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
  • Downloads

Follow Us