बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

सात दिन तक छिडे़गी पानी को लेकर बहस

Rampur Updated Mon, 16 Jul 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
रामपुर। वाटर री चार्ज को लेकर शासन की चिंता बढ़ गई है। भूजल दिवस खत्म कर 16 जुलाई से सप्ताह मनाने का फैसला लिया है। लघु सिंचाई विभाग ने भी अपनी तैयारी पूरी कर ली है।
विज्ञापन

भूजल स्तर तेजी से खिसक रहा है। बरसाती पानी की बर्बादी रोकने के लिए आठ साल पहले रेन वाटर हार्वेेस्टिंग योजना शुरू की गई थी। योजना के तहत तीन सौ वर्ग मीटर या उससे अधिक क्षेत्रफल में बने भवनों में रेन वाटर हार्वेस्टिंग की व्यवस्था की जानी है। लेकिन इतने में एक ही बिल्डिंग में सिस्टम लग सका। जागरूकता लाने को हर साल 10 जून को भूजल दिवस मनाया जाता था। इसके बाद भी पानी की बर्वादी रोकने के कोई कारगर उपाय नहीं कि ए जा सके। शासन ने भूजल दिवस खत्म कर भूजल सप्ताह मनाने का फरमाना जारी किया है। भूजल सप्ताह 16 जुलाई से 22 जून तक मनाया जाएगा। लघु सिंचाई विभाग के जेई राम औतार शर्मा ने बताया कि सप्ताह की तैयारी पूरी कर ली गई है। सप्ताह में स्कूलों को भी शामिल किया जाएगा। वाद-विवाद प्रतियोगिताएं भी कराई जाएंगी। ब्लाकों में भी गोष्ठियां होंगी, जिनमें लोगों को पानी की बर्वादी रोकने के उपाय बताए जाएंगे। कार्यक्रम में ग्राम प्रधानों की भागीदारी रहेगी।

वर्षा जल संचय कैसे करें
-घर के लान को कच्चा रखें
-घर के बाहर सड़क के किनारे कच्चे रखें
-पार्कों में रिचार्ज ट्रैंच बनाएं
-रुफ वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम लगाएं

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us