विज्ञापन

आमने-सामने आ गईं सियालदह और संपर्क क्रांति

Rampur Updated Sun, 24 Jun 2012 12:00 PM IST
रामपुर। संपर्क क्रांति एक्सप्रेस और सियालदाह एक्सप्रेस एक-दूसरे केसामने आ गईं। यह देख रेल मुसाफिरों में हड़कंप मच गया। कुछ देर बाद संपर्क क्रांति के डाउन ट्रैक से अप ट्रैक पर जाने पर सियालदाह एक्सप्रेस प्लेटफार्म के लिए सिग्नल लाइट ग्रीन हुई और दोनों ट्रेन अपने-अपने रास्ते पर रवाना हुईं।
विज्ञापन
विज्ञापन
उत्तराखंड संपर्क क्रांति एक्सप्रेस शनिवार को रामपुर से मुरादाबाद की ओर रवाना हो रही थी। रेलवे स्टेशन से निकलकर ट्रेन जैसे ही ज्वाला नगर क्रासिंग के पास पहुंची थी कि किसी ने चेन पुलिंग कर दी। केबिन केसामने ट्रैक परिवर्तन वाले स्थान पर डाउन लाइन पर रुक गइ दूसरे ट्रैक पर मुरादाबाद की ओर से सियालदह एक्सप्रेस आ रही थी। सियालदाह एक्सप्रेस केलिए सिग्नल ग्रीन नहीं हुआ और वह भी संपर्क क्रांति एक्सप्रेस से कुछ मीटर दूर आउटर पर खड़ी हो गई। दोनों रेलों केमुसाफिर यह देखकर घबरा गए। उन्हें लगा कि दोनों रेलों की टक्कर होते-होते बची है। कुछ मुसाफिरों ने अपने परिजनों और मित्रों को फोन करके यह सूचना दी। कुछ देर बाद संपर्क क्रांति एक्सप्रेस के ट्रैक बदल कर अप लाइन पर पहुंची और मुरादाबाद केलिए रवाना होने पर मुसाफिरों ने राहत की सांस ली। संपर्क क्रांति एक्सप्रेस के निकल जाने पर सियालदाह एक्सप्रेस कुछ ही मिनटों में रामपुर जंक्शन पहुंच गई। स्टेशन अधीक्षक एसके पांडे ने बताया कि संपर्क क्रांति केकिसी मुसाफिर ने चेन पुलिंग कर दी थी, इसकी वजह से ट्रेन ट्रैक परिवर्तन वाले स्थान पर रुक गई थी। रेलवे इंटरलॉकिंग सिस्टम ऐसा है कि जब तक कोई ट्रेन ट्रैक पर होगी, उस पर दूसरी ओर से आने वाली रेल के लिए सिग्नल ग्रीन नहीं होता है। उन्होंने बताया कि यह तो अक्सर होता रहता है। यदि संपर्क क्रांति और सियालदाह एक्सप्रेस राइट टाइम (सुबह 11: 20) पर होती हैं तो, सियालदाह एक्सप्रेस को आउटर पर रोक दिया जाता है। संपर्क क्रांति के गुजरने के बाद ही सियालदह एक्सप्रेस रामपुर रेलवे स्टेशन पर आती है।

Recommended

कुंभ मेले में अतुल धन, वैभव, समृधि प्राप्ति हेतु विशेष पूजा करवायें और प्रसाद की होम डिलीवरी पायें
त्रिवेणी संगम पूजा

कुंभ मेले में अतुल धन, वैभव, समृधि प्राप्ति हेतु विशेष पूजा करवायें और प्रसाद की होम डिलीवरी पायें

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

जानिये पूर्वी उत्तर प्रदेश की सीटों का हाल, यहां से बनती और बिगड़ती है सरकारों की किस्मत

पूर्वी उत्तर प्रदेश की सीटें सरकारों की किस्मत बनाने और बिगाड़ने का दम रखती हैं।इस रिपोर्ट के जरिये देखिए कि क्यों प्रियंका गांधी को कांग्रेस ने पूर्वी उत्तर प्रदेश भेजा।

24 जनवरी 2019

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree