विज्ञापन

चार दर्जन में गांवों में पसरा अंधेरा

Rampur Updated Tue, 19 Jun 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
सैदनगर। जिले के करीब चालीस गांवों में बिजली की सप्लाई ठप चल रही है। इससे ग्रामीण बेचैन है। विभाग की इस बेपरवाही से लोगों में रोष पनपने लगा है। वहीं ग्रामीण इलाकों में चलने वाले उद्योग भी ठप बने हुए हैं।
विज्ञापन

कुटीर उद्योगी मुसीब उल हक, रिजवान, फजले अहमद, अकबर अली, कल्लू का कहना है कि बिजली न आने से कारोबार ठप पड़ा है। आमदनी कुछ भी नहीं हो रही है, घाटे में कर्जा लेने तक की नौबत आ खड़ी हुई है। इसका असर उद्योग में काम करने वाले कर्मचारियों पर भी पड़ रहा है। चावल के कारोबारियों ने भी विभाग द्वारा कोई सुध न लिए जाने का आरोप लगाया है। वहीं नगलिया आकिल के प्रधान अमीर जहां का कहना है कि बिजली न आने से खेती पर भी असर पड़ रहा है। गरमी के चलते जहां नहरे सूख गईं है तो वहीं नलकूप भी ठप पड़े हैं। किसानों के लिए जीना भी मुश्किल होने लगा है। सैदनगर में भी दो दिन से बिजली नहीं आई है। वहीं दिलपुरा, जिठनिया, देवरनिया, अली नगर, बगड़ खा, अजीमनगर, दिलपुरा, कुमहरिया, कुचैटा, परचई, डोगपुरी टांडा, खेड़ा टांडा, भोड़ बक्काल, मुरसैना, बड़ापुरा, करनपुर, इमरता, मिश्रीनगर, नवाब गंज, हकीम गंज, सीगन खेड़ा, लालपुर, हमीरपुर, मानकपुर बंजरिया, खुशहाल पुर, मुतियापुरा, सराबा बेंजनी, बेंजना, परशुपुरा, नसीम गंज, तलिया नगला, भटपुरा, अहमदाबाद, सींगनी गांव में भी बिजली की भारी किल्लत है।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us