'My Result Plus

पलक झपकते ही खत्म हो गया परिवार

Rampur Updated Thu, 14 Jun 2012 12:00 PM IST
रामपुर। सड़क हादसे में हंसते-खेलते परिवार की खुशियां पलक झलक ही खत्म हो गई। सुहेल की पत्नी और उसकी दो बेटियों की मौत हो गई। वह खुद भी घायल हो गया।
बुधवार की दोपहर हाईवे पर जो दर्दनाक हादसा हुआ उसे देखकर कई लोगों की आंखें भर आईं। ककरौवा निवासी सुहेल खां रिश्तेदारी में जाने को पत्नी नादिरा, तीन साल की बेटी जोया और तीन माह की इकरा को बाइक पर बैठाकर रिश्तेदारी में जाने के लिए निकला था। सुहेल की बाइक पर सुहेल समेत चार लोग सवार थे। तपती दोपहरी में हाईवे पर दौड़ती बाइक को सामने से आते ट्रक ने चपेट में ले लिया। यानी पलक झपकते ही सुहेल का पूरा परिवार उसकी आंखों के सामने ही खत्म हो गया। उसकी पत्नी नादिरा, बेटी जोया और इकरा की लाशें पोस्टमार्टम हाउस में रखी थी। तीनों की लाश देखकर सुहेल बेसुध हो रहा था। उसके परिवार के सदस्यों का भी रो-रोकर बुरा हाल है। परिवार की खुशियां एक झटके में खत्म हो जाने से उसके गांव में भी मातम का माहौल है। गांव में भी सुहेल को सांत्वना देने वालों की भीड़ लगी हुई थी।

Spotlight

Related Videos

पंचायत ने गैंगरेप पीड़िता की आबरू की कीमत लगाई 3 लाख रुपये

मेरठ में एक बार फिर पंचायत के तुगलकी फरमान की वजह से बवाल मच गया है। एक गैंगरेप पीड़िता के आरोपी के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के बजाय पंचायत ने उसकी आबरू की कीमत 3 लाख रुपये लगाई है। देखिए क्या है पूरा मामला।

21 अप्रैल 2018

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen