बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

रेड मार्किंग के विरोध में भड़के व्यापारी

Rampur Updated Wed, 06 Jun 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

रामपुर। हाईवे किनारे स्थित दुकानों और मकानों पर लाल निशान के विरोध में व्यापारियों ने लोक निर्माण विभाग और पालिका पर प्रदर्शन किया। व्यापारियों ने कहा कि अतिक्रमण हटाने के नाम पर ज्यादती बर्दाश्त नहीं की जाएगी।
विज्ञापन

उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल के बैनर तले व्यापारियों ने पहले लोक निर्माण विभाग के अधिशासी अभियंता का घेराव किया। रेड मार्किंग का कारण पूछा और हाईवे किनारे बनी दुकानों को वैध बताया। संतोषजनक जवाब नहीं मिलने पर पालिका के ईओ का घेराव किया। व्यापारी नेता शैलेंद्र शर्मा ने बताया कि न तो लोक निर्माण विभाग और न ही नगर पालिका के अधिकारी स्वीकार कर रहे हैं कि लाल निशान उन्होंने लगाए हैं। व्यापारी नेता संदीप अग्रवाल सोनी ने कहा कि पहले तो यह बात स्पष्ट होनी चाहिए कि लाल निशान किसने लगाए हैं। रेलवे स्टेशन के करीब हाईवे के किनारे बनी दुकानें, पचास से अधिक पुरानी हैं। उन्होंने कहा कि 25 से 28 फुट तक मार्किंग की गई है। दुकानें बीस-बीस फुट की है। ऐसे में व्यापारी बर्बाद हो जाएगा। उन्होंने रेड मार्किंग की कार्रवाई पर रोक लगाने की मांग की है। इस मौके पर शाहिद शम्सी, इमरान, सलीम, हरीश अरोड़ा, हरीओम, नवीन थे।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us