समर्पण से पहले पूर्व चेयरमैन गिरफ्तार

Rampur Updated Tue, 05 Jun 2012 12:00 PM IST
रामपुर। घपले के आरोप से घिरे स्वार नगर पालिका के निवर्तमान चेयरमैन हाजी रईस अंसारी की पुलिस को चकमा देकर न्यायालय में आत्मसमर्पण की कोशिश नाकाम हो गई। दिनभर की घेराबंदी के बाद पुलिस ने उनको मुरसैना से गिरफ्तार कर लिया। पुलिस उनसे पूरे प्रकरण को लेकर पूछताछ कर रही है। दूसरी तरफ कोर्ट में सुनवाई के लिए मंगलवार का दिन मुकर्रर किया गया है।
नगर पालिका में सरकारी धन के गबन समेत विभिन्न आरोपों में पिछले दिनों स्वार कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया गया था। रिपोर्ट दर्ज होने के साथ ही पुलिस ने गिरफ्तारी को दबिश दी थी। पुलिस उनके भूमिगत होने पर गिरफ्तार नहीं कर सकी थी। बाद में पुलिस की ओर से पूर्व चेयरमैन को भगोड़ा घोषित कर दिया गया था। साथ ही उनके आवास पर नोटिस भी चस्पा कर दिया गया था। इस बीच पूर्व चेयरमैन ने अपने अधिवक्ता के माध्यम से कोर्ट में प्रार्थना पत्र दाखिल कर सरेंडर करने की बात कही। सरेंडर की जानकारी पुलिस को मिल गई। इसके साथ ही पुलिस एक्टिव हो गई। पुलिस को सूचना थी कि पूर्व चेयरमैन सोमवार को कोर्ट में आत्म समर्पण कर सकते हैं। स्वार पुलिस ने घेराबंदी कर उनकी कार रोकी, मगर वह कार में सवार नहीं थे। उनकी कार को पुलिस ने कागज नहीं होने पर सीज कर दिया था। दूसरी ओर कोर्ट में भी पुलिस ने डेरा डाले रखा। सोमवार को इंसपेक्टर डीसी शर्मा मय फोर्स के कोर्ट परिसर में पहुंच गए थे। दिन भर के इंतजार के बाद चेयरमैन कोर्ट नहीं पहुंच पाए। कोर्ट में मामले की सुनवाई मंगलवार को मुकर्रर की थी। देर शाम तक पुलिस ने घेराबंदी रखी। पुलिस ने स्वार क्षेत्र के मुरसैना से गिरफ्तार कर लिया। इंसपेक्टर ने बताया कि नगर पालिका के चेयरमैन को गिरफ्तार कर लिया है। अब पुलिस उनसे पूछताछ कर रही है।

Spotlight

Related Videos

शाम तक की सारी खबरों का राउंड अप 20 फरवरी 2018

‘यूपी न्यूज’ बुलेटिन में देखिए उत्तर प्रदेश के हर गांव हर शहर की छोटी-बड़ी खबरें रोजाना सुबह 9 और शाम 7 बजे सिर्फ अमर उजाला टीवी पर। अमर उजाला टीवी पेज पर एक क्लिक पर जानिए यूपी की ताजा-तरीन खबरें और दें अपनी राय, सुझाव और कमेंट्स।

20 फरवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Switch to Amarujala.com App

Get Lightning Fast Experience

Click On Add to Home Screen