युवक को बांधकर पीटने में फंसी पटवाई पुलिस

Rampur Updated Sun, 03 Jun 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
रामपुर। जमीन के बंटवारे को लेकर थाने में बुलाई गई पंचायत के दौरान युवक को खंभे से बांधकर पीटने में पटवाई पुलिस फंस गई है। कोर्ट ने मामले की रिपोर्ट दर्ज करने के आदेश दिए हैं।
विज्ञापन

पुलिस उत्पीड़न का यह मामला पटवाई थाना क्षेत्र का है। क्षेत्र के मडैया जौलपुर गांव निवासी राम किशोर ने 11 मई को मुख्यमंत्री, मानवाधिकार आयोग, डीजीपी व आईजी को पत्र भेजकर शिकायत की थी कि संपत्ति बंटवारे को लेकर उसके रिश्तेदार राम भरोसे से विवाद है। विवाद सुलझाने को 30 अप्रैल को पटवाई थाने में तैनात दारोगा व एक सिपाही आया और थाने ले गया। आरोप है कि समझौता नहीं करने पर पुलिस ने कई घंटे तक हिरासत में रखा। फिर बात न मानने पर खंभे से बांध दिया। बाद में पुलिस कर्मियों ने बेरहमी से पिटाई की। उसके गंभीर चोटे आई हैं। आरोप है कि पुलिस कर्मियों ने पिटाई के बाद उसके साथ सादे कागज पर हस्ताक्षर करा लिए और फिर उसे रिहा किया। मामला सीएम तक पहुंचने पर जांच के आदेश दिए गए थे। एसपी के आदेश पर मिलक के सीओ ने मामले की जांच शुरू कर दी गई थी। इस बीच पीड़ित की ओर से कोर्ट में अधिवक्ता के माध्यम से प्रार्थना पत्र दिया। सुनवाई कर सीजेएम श्याम लाल कोरी ने तत्कालीन एसओ, दारोगा सुखपाल सिंह, सिपाही सतीश कुमार व दो अन्य पुलिस कर्मियों के साथ रामभरोसे, गंगाराम, लाखन सिंह, सोमपाल, भानुप्रताप, तोताराम, जमुना प्रसाद, पप्पू केखिलाफ रिपोर्ट के आदेश दिए हैं।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us