विज्ञापन

मैथ ने बिगाड़ा गणित, अंग्रेजी ने रुलाया

Rampur Updated Tue, 29 May 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
रामपुर। मैथ और अंग्रेजी का हौव्वा स्टूडेंट्स के सिर पर खूब चढ़ा रहा। इस बार मैथ ने मेधावियों तक के छक्के छुड़ा दिए। दयावती मोदी अकादमी जैसे स्कूल के 46 बच्चों के अंक 50 फीसदी से भी कम रहे है,जबकि दूसरे स्कूलों की स्थिति तो और भी खराब रही है। कई बच्चे तो ऐसे भी हैं जो दहाई का आकंड़ा भी पार नहीं कर सके। वहीं इस बार अंग्रेजी ने भी बच्चों को खूब सताया।
विज्ञापन
बात चाहें दसवीं की हो या फिर 12वीं की। गणित विषय में अच्छे अंक जहां छात्रों की योग्यता को साबित करता है,वहीं टापर बनने में भी पूरा सहयोग करते हैं,लेकिन मैथ में पारंगत होना हर किसी के बस की बात नहीं है। टापर हो या फि र अच्छे अंक हासिल करने वाले बच्चे। सभी को मैथ ने खूब डराया है। सीबीएसई 12 वीं का परीक्षा परिणाम सोमवार को घोषित हुआ तो उसमें मैथ सब्जेक्ट को लेकर काफी अच्छी स्थिति नहीं दिखी। मैथ ने इस बार काफी बच्चों को रुलाया। बात जिले के टापर माने जाने वाले दयावती मोदी अकादमी की जाए तो इस स्कूल के 46 बच्चों के अंक इस बार पचास फीसदी से भी कम आए हैं। इसके अलावा सेंट एंथोनी सीनियर सेकेंडरी स्कूल के करीब 25 बच्चों को मैथ ने डराया और उनके अंक पचास फीसदी से भी कम है। इन दोनों स्कूलों में कई बच्चे ऐसे शामिल हैं जिन्होंने दहाई तक का आकंड़ा पार नहीं किया है। सेंट पाल्स सीनियर सेकेंडरी,आरएएन पब्लिक स्कूल समेत अन्य स्कूलों में भी मैथ ने बच्चों को खूब रुलाया है। मैथ में बिगड़ती हालत पर मैथ के जानकारों का कहना है कि मैथ को लेकर बच्चों में रिवीजन करने का तरीका कम हुआ है। साथ ही सही गाइडलाइन भी नहीं मिल पाना भी है।
12 वीं के घोषित परिणामों पर नजर डाली जाए तो साफ हो जाएगा कि छात्र-छात्राओं को सबसे ज्यादा अंग्रेजी ने ही रुलाया। इसके अलावा फिजिक्स व कैमिस्ट्री ने भी बच्चों को खूब परेशान किया। टाप टेन की सूची में शामिल रहने वाले बच्चे हो या फिर मेरिट लिस्ट से बाहर रहने वाले। अंग्रेजी विषय ने बच्चों को खूब परेशान किया है। दयावती मोदी अकादमी के आमिर अली खां, प्राची सक्सेना, रुचि गुप्ता, साहिल को अंग्रेजी ने परेशान किया। अंग्रेजी के अलावा विज्ञान वर्ग में फिजिक्स ने काफी परेशान किया। कैमिस्ट्री के पेपर में एक सवाल आउट आफ स्लेबस दिया गया था,जिसने ज्यादा परेशानी पैदा की। तीन नंबर के इस सवाल पर तमाम बच्चों के पसीने छूट गए थे।

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें  
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Related Videos

सीएम शिवराज चौहान का बड़ा एलान, मध्य प्रदेश में गरीबों को मिलेगी ये बड़ी सौगात

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान शुक्रवार को परासिया में थे। यहां उन्होंने एक कार्यक्रम में एलान किया कि हर गरीब को जमीन का टुकड़ा दिया जाएगा।

22 सितंबर 2018

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree