डीसीबी ने ऋण वितरण में किया मंडल टाप

Rampur Updated Fri, 25 May 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

रामपुर। ऋण वितरण और वसूली में जिला सहकारी बैंक ने मंडल टाप कर लिया। कमाई के मामले में भी बैंक आगे निकल गईं। बैंक साढ़े सात करोड़ के फायदे में पहुंची और तीन करोड़ से ज्यादा का शुद्ध लाभ कमाया। इसके लिए किसान, संचालक और बैंक स्टाफ की हौसला अफजाई की गई।
विज्ञापन

जिला सहकारी बैंक के संचालक मंडल की बैठक में ऋण वितरण और वसूली की समीक्षा की गई। पता चला कि बैंक मंडल में पहले स्थान पर पहुंच गई। चेयरमैन अमरीश पटेल ने किसान, संचालक और बैंक स्टाफ की हौसलाअफजाई की। संचालक मंडल को बताया गया कि बैंक ने एक अप्रैल 2011 से 31 मार्च 2012 तक सात करोड़ 26 लाख की कमाई की। टैक्स समेत सारे खर्च निकालकर 3.08 करोड़ का शुद्ध लाभ कमाया। इतना सुनते ही संचालकों ने खुशी से तालियां बजानी शुरू कर दीं।
फैसला लिया कि ग्राहकों की सुविधा के लिए शीघ्र ही बैंक के पांच एटीएम चालू करा दिए जाएंगे। चेयरमैन ने बैंक मैनेजरों को निर्देश दिए कि वसूली और निक्षेप का जो लक्ष्य दिया गया हैै उसे 30 जून तक पूरा कर लें। अन्यथा लापरवाह शाखा प्रबंधकों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। शाखा प्रबंधकों और कर्मचारियों को निर्देश दिए कि बैंक समय से पहुंचे। किसानों की समस्याओं का शीघ्र निस्तारण करें। किसानों को अधिक से अधिक सुविधा मुहैया कराई जाए। इसमें संचालक सुरेंद्र पाल सिंह (किरा), परीक्षित कपूर, इम्तयाज हुसैन चिंटू, जाकिर अली, केपी गंगवार, ओमप्रकाश, रघुवर दयाल सागर, साहबजादे अंसारी, प्रेम किशोर, यासमीन सलीम भी थीं। संचालन सचिव मुहम्मद अंजुम खां ने किया।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us