प्रतिबंधित पशु पकड़ने पर जाम, पुलिस ने खदेड़ा

Rampur Updated Tue, 22 May 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

केमरी। पुलिस ने सोमवार की सुबह पीलाखार नदी के पास से 19 प्रतिबंधित पशुओं को बरामद कर लिया। पशु ला रहे लोग पुलिस को चकमा देकर फरार हो गए। विरोध में कुरेशी बिरादरी की महिलाओं ने रामपुर रोड पर जाम लगाकर धरना प्रदर्शन किया। पुलिस एवं पीएसी ने लाठियां फटकार कर भीड़ को खदेड़ दिया।
विज्ञापन

केमरी थानाध्यक्ष गणेश दत्त जोशी ने सोमवार की तड़के पांच बजे ग्राम कमुआ स्थित पीलाखार नदी पर छापा मारकर खजुरिया थाना क्षेत्र से वध हेतु लाए जा रहे 19 प्रतिबंधित पशुओं को बरामद कर लिया। पशु ला रहे लोग पुलिस को देखकर चकमा देकर फरार हो गए। पुलिस पशुओं को थाने ले आई और पशु लाने वालों की तलाश में जुट गई। सुबह दस बजे कुरैशी बिरादरी की तमाम महिलाएं पुलिस के विरोध में रामपुर तिराहे के पास पहुंच गई। महिलाओं ने पुलिस पर उत्पीड़न का आरोप लगाकर रोड पर तिरछी आड़ी बल्लियां लगाकर रोड बंद कर दिया। पुलिस के खिलाफ धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया। प्रदर्शन करने वालों का आरोप था कि पुलिस पालतू पशु पकड़कर ज्यादती कर रही है। उनके परिवार वालों के नाम फर्जी तरीके से मुकदमों में दर्शाकर शोषण करने में लगी है। एसडीएम मदन सिंह गर्ब्याल, सीओ बाबू लाल आर्य भेाट, बिलासपुर, खजुरिया पुलिस एवं पीएसी के साथ पहुंच गए। पुलिस व पीएसी ने लाठियां फटकार कर सभी को खदेड़ दिया। बाद में बरामद पशुओं को गौशाला भेज दिया गया है। इस मौके पर महरूनिशां, अख्तरी, शहनाज, कनीजा, सिराज बेगम, नईमा, निशा, नसरीन आदि थीं।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us